भारतीय शेयर बाज़ार में उछाल

मुम्बई स्टॉक एक्सचेंज
Image caption मुम्बई के शेयर बाज़ार में बुधवार को काफ़ी उछाल आया और वह 5.5 प्रतिशत ऊपर बंद हुआ.

भारत के शेयर बाज़ार में बुधवार को काफ़ी उछाल आया और वह 5.5 प्रतिशत ऊपर 15,912 अंक पर बंद हुआ.

सेंसक्स में पिछले छह सत्रों में 1405 अंक नीचे गिर चुका था इसलिए इस बढ़ोत्तरी को एक अच्छा संकेत माना जा रहा है.

शेयर दलालों का कहना है कि जब से वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने ये घोषणा की है कि अर्थव्यवस्था के मज़बूत आधार पर लौटने तक उसे प्रोत्साहन देने वाले पैकेज वापस नहीं लिए जाएंगे उसके बाद से ही यह उछाल आया है.

नेशनल स्टॉक ऐक्सचेंज के निफ़्टी में भी 146 की बढ़ोतरी हुई.

ये बढ़त अचल सम्पत्ति, धातु और सूचना प्रौद्योगिकी के शेयरों में आई तेज़ी के कारण देखी गई.

बीएसई के अचल सम्पत्ति सूचकांक में 9.6 प्रतिशत की बढ़त हुई जबकि धातु सूचकांक में 5.3 प्रतिशत और सूचना प्रोद्योगिकी सूचकांक चार प्रतिशत बढ़ा.

जब विश्व बैंक ने चीन की अर्थव्यवस्था में विकास की भविष्यवाणी की तो एशियाई बाज़ार भी दो दिनों की गिरावट से उबरे.

विश्व बैंक के अनुसार दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था चीन में इस साल विकास की दर 7.2 से लेकर 8.4 प्रतिशत रहेगी.

संबंधित समाचार