पटरी पर आ रही है विश्व अर्थव्यवस्था

Image caption पूरी दुनिया में आर्थिक विकास होगा, लेकिन 'ब्रिक' देशों की अर्थव्यवस्था में तेज़ी रहेगी

आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन(ओईसीडी) ने कहा है कि अगले साल दुनिया में हर तरफ़ आर्थिक विकास होगा और अर्थव्यवस्था दोबारा पटरी पर आ जाएगी.

ओईसीडी के 30 सदस्य देशों में अमरीका और ब्रिटेन शामिल हैं. अपने सदस्य देशों के लिए संगठन ने 2010 की विकास दर 1.9 प्रतिशत रहने की संभावना बताई है. इस साल के लिए ये दर मात्र 0.7 प्रतिशत है.

लेकिन सकारात्मक भविष्यवाणी के साथ ओईसीडी ने चेतावनी भी दी है कि आर्थिक वृद्धि दर कुछ समय के लिए बहुत सामान्य रहेगी, साथ ही विकसित देशों की अर्थव्यवस्था के पटरी पर आने की प्रक्रिया में झटके भी लगेंगे.

अपनी रिपोर्ट में ओईसीडी ने ये भी कहा है कि जिन उपायों से विकसित देशों की अर्थव्यवस्था संभल रही है, उन्हीं उपायों से इस प्रक्रिया को ख़तरा भी है. उदाहरण के लिए ओईसीडी ने ब्रिटेन को सरकारी ख़र्च पर नियंत्रण की सलाह दी है. ब्रिटेन सरकार की अरबों पाउंड की नई मुद्रा वित्त बाज़ार में डालने की नीति के प्रभाव को लेकर भी सवाल उठाए गए हैं.

भावी आर्थिक परिदृश्य पर अपनी रिपोर्ट में ओईसीडी ने कहा है कि धनी देशों की अर्थव्यवस्था को मुख्य ख़तरा बेरोज़गारी से है. अमरीका में अगले साल से पहले बेरोज़गारों की संख्या का बढ़ना नहीं रुकेगा, जबकि यूरोपीय संघ की स्थिति तो और भी ख़राब है. ओईसीडी का आकलन है कि यूरोपीय संघ के देशों में बेरोज़गारी 2011 तक बढ़ती रहेगी.

'ब्रिक' देशों में तेज़ी

प्रमुख विकासशील देशों के लिए भविष्यवाणी विकसित देशों के मुक़ाबले बिल्कुल ही अलग है. अगले साल चीन का आर्थिक विकास 10 प्रतिशत की दर से, जबकि भारत का 7 प्रतिशत से ज़्यादा दर से होने की संभावना है.

इसी तरह ओईसीडी के अनुसार 2010 में ब्राज़ील की अर्थव्यवस्था 5 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी, जबकि रूस की अर्थव्यवस्था भी वृद्धि के पथ पर होगी. उल्लेखनीय है कि मंदी की सबसे भारी मार रूस की अर्थव्यवस्था को लगी है, जिसे 9 प्रतिशत आर्थिक संकुचन का सामना करना पड़ा है.

यहाँ ये भी ज़िक्र करना होगा कि अच्छी आर्थिक वृद्धि की संभावना वाले ये चारों देश ओईसीडी के सदस्य नहीं हैं.

ओईसीडी के सिर्फ़ एक सदस्य देश को 2010 में अच्छी-ख़ासी आर्थिक वृद्धि नसीब होगी. यह देश है- दक्षिण कोरिया. अगले साल दक्षिण कोरिया की अर्थव्यवस्था 4.5 प्रतिशत की दर से विकसित होने की संभावना है. इस साल दक्षिण कोरिया का आर्थिक विकास नहीं के बराबर रहा है.

संबंधित समाचार