डेढ़ लाख नौकरियाँ पैदा होंगी: नैसकॉम

भारत में इंटरनेट
Image caption नैसकॉम के मुताबिक अगले साल सूचना तकनीक उद्योग में 15 प्रतिशत की वृद्धि होने की संभावना है

भारत के सूचना तकनीक उद्योग के संगठन नैसकॉम का कहना है कि अगले वित्तीय वर्ष के दौरान इस उद्योग में 1.5 लाख नई नौकरियाँ पैदा होने की संभावना है.

एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान नैसकॉम ने कहा कि 25 हज़ार अरब डॉलर का कारोबार करने वाले भारतीय सूचना तकनीक उद्योग में अगले वित्तीय वर्ष में लगभग 15 प्रतिशत की वृद्धि होने की उम्मीद है. यह वृद्धि साफ़्टवेयर और सेवा क्षेत्र में होगी.

साल 2010-11 के लिए अपना अनुमान जारी करते हुए संगठन ने दावा किया की विश्व में फ़ैली आर्थिक मंदी के बावजूद, ख़त्म हो रहे वित्तीय वर्ष 2009-10 में उद्योग के कारोबार में 5.5 प्रतिशत की वृद्धि होगी.

जहाँ आर्थिक मंदी के कारण अनेक क्षेत्रों में लोगों को नौकरियाँ गंवानी पड़ीं, वहीं इस दौरान भी भारत में सूचना तकनीक के क्षेत्र में हज़ारों नए लोगों को रोज़गार मिला है.

'छोटे शहरों में फैलता उद्योग'

नैसकॉम के अध्यक्ष सोम मित्तल का कहना था, "सूचना तकनीक के उद्योग में काम करने वाले लोगों में 70 फ़िसद 19 से 30 साल के बीच की उम्र के हैं. पहले ये उद्योग केवल छह शहरों तक सीमित था, अब वह भारत के 45 शहरों में फैल चुका है जिसकी वजह से इन छोटे शहरों के युवाओं को भी रोज़गार की नई संभावनाओं का लाभ प्राप्त हो रहा है."

उनका कहना था कि अगले साल संभावित वृद्धि पुराने व्यापार क्षेत्रों जैसे - अमरीका, यूरोप, लातिनी अमरीकी देशों के साथ-साथ स्वास्थ्य, पानी-बिजली जैसे सेवा क्षेत्रों में भी पैदा होंगी.

नैसकॉम को स्थानीय भारतीय बाज़ार से बड़ी उम्मीदें हैं क्योंकि वहाँ सकल घरेलु उत्पाद तेज़ी से बढ़ रहा है और साथ ही सूचना तकनीक का क्षेत्र भी तेज़ी से बढ़ रहा है.

अमरीका में राष्ट्रपति बराक ओबामा की हाल की टिप्पणियों - जिसमें उद्योग जगत को देश में ही रोज़गार बढ़ाने के सुझाव शामिल हैं - से भारतीय सूचना तकनीक उद्योग चिंतित भी है.

संबंधित समाचार