'पेय कंपनियाँ कम पानी निकालें'

कोक
Image caption कोक और पेप्सी की गुणवत्ता को लेकर सवाल उठते रहा है.

केरल विधानसभा की एक समिति ने पुड्डुसेरी में जल स्तर में हो रही कमी को गंभीरता से लिया है.

इस समिति ने शीतल पेय की बहुराष्ट्रीय कंपनीयों को कम पानी निकालने की सिफ़ारिश की है.

जल संसाधन मंत्री एनके प्रेमचंद्रन ने कहा कि इस रिपोर्ट में मुख्य रूप से ज़्यादा निकल रहे पानी पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई है.

हलांकि समिति की रिपोर्ट में इन कंपनियों को बंद करने की बात नहीं की गई है.

ये सिफ़रिश ऐसे समय में पेश की गई जब प्लाचिमाड़ा गाँव में कोका कोला के प्लांट से हुई हानि पर हुई जाँच को जाँचकर्ता अंतिम रूप दे रहे हैं.

प्लाचिमाड़ा गाँव के लोगों का कहना है कि कंपनी के प्लांट से वहाँ भूमिगत जल स्तर क़ाफ़ी नीचे चला गया है.

गुरुवार को जल और पर्यावरण प्रदूषण मामले को देखने वाली याचिका समिति ने सरकार से वहां के किसानों को कंपनी से मुआवज़ा दिलवाने के लिए कहा है.

रिपोर्ट पेश करने के बाद मीडिया से बात करते हुए समिति के अध्यक्ष वी सुरेंद्रन पिल्लई ने कहा कि किसानों के स्वास्थ्य और फसलों पर इन प्लांटो से बुरा असर पड़ा है.