यूरो के लिए अरबों डॉलर के पैकेज पर सहमति

Image caption बिना आपातकालीन पैकेज के यूरो पर भारी दबाव पड़ने का ख़तरा था.

ग्रीस के संकट को दूसरे यूरोज़ोन देशों में फैलने से रोकने के लिए नौ सौ अरब डॉलर से भी ज़्यादा के एक आपातकालीन पैकेज पर सहमति हो गई है.

ये फ़ैसला यूरोपीय संघ के वित्त मंत्रियों ने ब्रसेल्स में 11 घंटों तक चली बैठक के बाद लिया है.

फ़ैसले का एलान करते हुए स्पेन की वित्त मंत्री एलेना सैलगादो ने कहा कि इस पैकेज में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष भी सहायता करेगा.

बिना इस आपातकालीन पैकेज के यूरो मुद्रा के भारी दबाव में आ जाने का डर था.

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के निदेशक ने इस पहल का स्वागत किया है.

पूर्वी एशियाई देशों में बाज़ार खुलने के बाद यूरो मज़बूत नज़र आया है.

इस पैकेज के तहत जिन देशों में यूरो एकमात्र मुद्रा है उन्हें 440 अरब यूरो तक के कर्ज़ की गारंटी होगी और साथ ही यूरोपीय कमीशन की तरफ़ से भी 60 अरब यूरो की आपातकालीन सहायता मिल सकेगी.

यूरोपीय संघ को ये बैठक इसलिए बुलानी पड़ी क्योंकि डर था कि ग्रीस के वित्तीय संकट का असर दूसरे देशों ख़ासकर स्पेन और पुर्तगाल पर भी पड़ेगा.

पिछले हफ़्ते ग्रीस के संकट का असर भारतीय बाज़ारों पर भी नज़र आया था.

संबंधित समाचार