माइक्रोसॉफ़्ट का मुनाफ़ा बढ़ा

माइक्रोसॉफ़्ट
Image caption माइक्रोसॉफ़्ट का मुनाफ़ा साढ़े चार अरब बढ़ा है

अप्रैल से जून के बीच सॉफ़्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ़्ट ने साढ़े चार अरब से ज़्यादा का मुनाफ़ा दर्ज किया है. पिछले साल इसी अवधि के मुक़ाबले ये मुनाफ़ा 48 फ़ीसदी ज़्यादा है.

माइक्रोसॉफ़्ट का कहना है कि इसके नए ऑपरेटिंग सिस्टम विंडोज़ 7 की अच्छी बिक्री के कारण मुनाफ़ा बढ़ा है. कंपनी का कहना है कि पिछले साल से विंडोज़ 7 के 17 करोड़ 50 लाख लाइसेंस बेचे जा चुके हैं.

इसके अलावा सर्च इंजन बिंगो और एक्स बॉक्स गेम्स कंसोल की बिक्री के कारण भी कंपनी का कुल राजस्व 16 अरब डॉलर तक पहुँच चुका है.

जून में समाप्त हुए एक साल की अवधि के दौरान माइक्रोसॉफ़्ट का मुनाफ़ा 18.76 अरब डॉलर था, जो पिछले साल इसी अवधि के मुक़ाबले 29 फ़ीसदी ज़्यादा है.

माइक्रोसॉफ़्ट के मुख्य वित्तीय अधिकारी पीटल क्लेन ने कहा, "राजस्व में बढ़ोत्तरी के साथ-साथ ख़र्चों में संयम बरतने के कारण हमने इस तिमाही में अच्छा प्रदर्शन किया."

फ़ायदा

इसके अलावा माइक्रोसॉफ़्ट ने इस साल ऑफ़िस 2010 भी लाँच किया था, जिससे उन्हें फ़ायदा मिला. एक प्रमुख रिसर्च कंपनी आईडीसी के मुताबिक़ पिछले तीन महीनों के दौरान पर्सनल कंप्यूटर्स के लिए विंडोज़ की बिक्री दुनियाभर में बढ़ी है.

माइक्रोसॉफ़्ट की ओर से अच्छा नतीजा ऐसे समय आया है जब ऑनलाइन रिटेल कंपनी अमेज़न के भी मुनाफ़े में अच्छी बढ़ोत्तरी हुई है.

इस तिमाही में अमेज़न का मुनाफ़ा पिछले साल इसी अवधि के मुक़ाबले 45 प्रतिशत बढ़ा है. अमेज़न का कहना है कि उसके किंडल उपकरण के लिए इलेक्ट्रॉनिक किताबों की बिक्री में हुई बढ़ोत्तरी के कारण उसका मुनाफ़ा बढ़ा है.

किंडल अमेज़न का ऐसा सॉफ़्टवेयर और हार्डवेयर उपकरण है, जिस पर आप ई-बुक्स और अन्य डिजिटल मीडिया को देख सकते हैं और पढ़ सकते हैं.

कंपनी का कहना है कि अमेज़न डॉट कॉम पर अब आम किताबों की तुलना में ई-बुक्स ज़्यादा बिक रही हैं.

इन दोनों के अलावा मशीनरी बनाने वाली कंपनी कैटरपिलर, डिलिवरी फ़र्म यूपीएस और दूरसंचार कंपनी एटीएंडटी ने भी इस तिमाही में मुनाफ़ा दर्ज किया है.

संबंधित समाचार