बीपी को रिकॉर्ड घाटा

Image caption टोनी हेवर्ड अक्तूबर में पद छोड़ देंगे

तेल कंपनी बीपी अपने ताज़ा नतीजे घोषित करने वाली है जिसमें वो रिकॉर्ड घाटा दिखाएगी. मेक्सिको की खाड़ी में तेल रिसाव के कारण उसे 25 से 30 अरब डॉलर इसके लिए रखने पड़े हैं.

माना जा रहा है कि ब्रिटेन के कॉर्पोरेट इतिहास में ये सबसे बड़े घाटों में से एक है.

बीबीसी को पता चला है कि अक्तूबर में पद छोड़ने के बाद बीपी के मुख्य कार्यकारी टोनी हेवर्ड को नौ लाख तीस हज़ार डॉलर की सालाना पेंशन मिलेगी.

तेल रिसाव के मामले में टोनी हेवर्ड की तीखी आलोचना हुई है जिसके बाद वे पद छोड़ रहे हैं.

20 अप्रैल में लुईज़ियाना में तेल के कुँए में विस्फोट के बाद से बीपी के कुल शेयरों का बाज़ार भाव( मार्केट कैपिटलाइज़ेशन) 40 फ़ीसीद गिरा है.

नुकसान

विस्फोट में 11 कर्मचारियों की मौत हो गई थी और बड़े पैमाने पर तेल का रिसाव हुआ था.

कंपनी की दूसरी तिमाही के नतीजों से पता चलेगा कि तेल रिसाव के बाद साफ़-सफ़ाई, मुआवज़ा और जुर्माना देने के लिए असल में कितनी राशि रखी गई है.

बीबीसी में बिज़नेस संपादक रॉबर्ट पेस्टन कहते हैं कि टोनी हेवर्ड की पेंशन का फ़ैसला विवादित रहने वाला है.

संपादक के मुताबिक चूँकि वे आपसी सहमति से जा रहे हैं और उन्हें निकाला नहीं गया है इसलिए बीपी बोर्ड को लगा कि टोनी हेवर्ड की अनुबंध की शर्तों का पालन करना चाहिए. टोनी हेवर्ड को एक साल का वेतन मिलेगा और 10 लाख पाउंड धनराशि के अन्य फ़ायदे.

संभावना जताई जा रही है कि उनकी जगह अमरीका के बॉब डडली को मुख्य कार्यकारी बनाया जाएगा. वे बीपी के प्रबंध निदेशक भी हैं.

संबंधित समाचार