जनरल मोटर्स के मुख्य कार्यकारी का इस्तीफ़ा

जेनरल मोटर्स मुख्यालय

अमरीकी कार निर्माता कंपनी जनरल मोटर्स के मुख्य कार्यकारी ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. उन्होंने ये पद आठ महीने पहले ही संभाला था.

ग़ौरतलब है कि पद संभालते समय उन्होंने कहा था कि वे अंतरिम अवधि के लिए कंपनी का नेतृत्व करेंगे लेकिन उन्होंने अपेक्षित समय से पहले ही इस्तीफ़ा दे दिया है.

विट्टेकर ने अपनी कंपनी के कर्मचारियों से कॉन्फ़्रेस कॉल के दौरान कहा कि एक मज़बूत नींव रखने के बाद वे विदा ले रहे हैं.

आर्थिक मंदी के दौर में जीएम की हालत बहुत ख़राब हो गई थी और पिछले साल कंपनी ने ख़ुद को दीवालिया घोषित कर सरकारी के मदद माँगी थी.

अमरीका सरकार ने तब जीएम को 50 अरब डॉलर का कर्ज़ दिया था और कनाडा ने भी कंपनी को कर्ज़ दिया था.

जीएम ने इसके बाद ख़र्च में व्यापक कटौती की थी और साथ ही कई कारखाने बंद कर कर्मचारियों की छंटनी भी की थी.

दिलचस्प ये है कि जीएम के मुख्य कार्यकारी एड विट्टेकार का इस्तीफ़ा उस समय आया है जब जीएम ने पिछले छह साल में किसी भी तिमाही के लिए सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है.

जीएम ने पिछली तिमाही के लिए 1.3 अरब डॉलर का मुनाफ़ा दिखाया है.

संबंधित समाचार