ए-380 के 40 इंजनों को बदलना होगा

क्वाटांस एयरलाइन
Image caption क्वांटस इंजनों को बदलने के लिए रोल्स रॉयस से बातचीत कर रहा है.

ऑस्ट्रेलिया की एयरलाइन क्वांटस का कहना है कि उसे अपने एयरबस ए-380 विमानों में लगे 40 रोल्स रॉयस इंजनों को बदलने की ज़रुरत है.

दो सप्ताह पहले इंडोनेशिया में उड़ान भरने के बाद क्वांटस के एक एयरबस ए-380 के विमान के एक इंजन में विस्फोट हो गया था.

इस दुर्घटना के बाद क्वांटस ने अपने छह ए-380 विमानों को उड़ाना बंद कर दिया था.

सुरक्षा परिक्षणों के दौरान इन इंजनों में तेल के रिसाव को समस्या की वजह पाया गया है.

रोल्स रॉयल इंजन

एयरबस ए-380 डबल डेकर विमान है, जिस पर अधिकतम 850 लोग सवार हो सकते हैं. ये दुनिया का सबसे बड़ा यात्री विमान है, जिसने वर्ष 2007 में व्यावसायिक उड़ान शुरू की थी.

ए-380 विमान में रोल्स रॉयल ट्रेंट 900 इंजन लगे हुए हैं. हर ए-380 विमान में चार रोल्स रॉयस इंजन लगे होते हैं.

इन विमानों का उपयोग क्वांटस के अलावा लुफ़्तांसा और सिंगापुर एअरलाइन भी इस्तेमाल करता है.

ये तीन एअरलाइनें 20 ए-380 जहाज़ों का प्रयोग करती हैं.

क्वांटस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एलन जॉयस ने कहा, "हम एअरबस और रोल्स रॉयस से बातचीत करते रहे हैं. हमें लगता है कि क़रीब 40 इंजनों को बदलने की ज़रुरत है."

रोल्स रॉयस क्वांटस एअरलाइन की घटना के बारे में कहा है कि वो समस्या सिर्फ़ एक पुर्ज़े तक सीमित थी, जिसकी वजह से तेल में आग लग गई और टर्बाइन में वायु-दबाव ख़त्म हो गया.

संबंधित समाचार