'भारत के बॉस हैं अच्छे'

कर्मचारी
Image caption कर्मचारियों पर आर्थिक विकास का भी अच्छा असर पड़ रहा है

दुनिया के 21 देशों में किए गए सर्वेक्षण के मुताबिक़ भारत के कर्मचारी अपने अधिकारियों यानी बॉस को सबसे अच्छा मानते हैं जबकि जापान के कर्मचारियों ने अपने बॉस को सबसे बुरा माना है.

इस सर्वेक्षण के मुताबिक़ अच्छे अधिकारियों के मामले में भारत के बाद चीन का नंबर आता है. जबकि ख़राब अधिकारियों के मामले में जापान के बाद फ़िनलैंड, फ़्रांस, इटली और ब्रिटेन का नंबर आता है.

यह सर्वेक्षण इस साल की शुरुआत में केनेक्ज़ा रिसर्च इंस्टिट्यूट (केआरआई) ने करवाया था. इसमें दुनिया भर के 21 देशों के सौ से अधिक कर्मचारियों वाली कंपनियों के 29 हज़ार कर्मचारियों से सवाल पूछे गए.

भारत में 72 प्रतिशत कर्मचारियों ने माना है कि उनके वरिष्ठ अधिकारी प्रभावशाली हैं. जबकि चीन के 71 प्रतिशत कर्मचारी अपने वरिष्ठ अधिकारियों के बारे में ऐसी ही राय रखते हैं.

केनेक्ज़ा के कार्यकारी निदेशक जैक विली का कहना है, "भारत और चीन में जो आर्थिक विकास हुआ है उसने कर्मचारियों के भीतर अपने वरिष्ठ अधिकारियों के प्रति भरोसा जगाया है."

उनका कहना है, "तेज़ी से उन्नति कर रही कंपनियों के कर्मचारी अपने विकास को भी महसूस कर रहे हैं इसकी वजह से भी उनका अपने वरिष्ठ अधिकारियों के प्रति धारणा बदली है."

इस सर्वेक्षण में ब्रिटेन सत्रहवें स्थान पर है और वहाँ सिर्फ़ 47 प्रतिशत कर्मचारियों ने कहा है कि वे अपने वरिष्ठ अधिकारियों पर भरोसा करते हैं.

यह प्रतिशत, वैश्विक औसत से भी कम है जो 55 प्रतिशत है.

जैक विली कहते हैं, "हमारे सर्वेक्षण के अनुसार ब्रिटेन के अधिकारी अपने कर्मचारियों के साथ अपेक्षित व्यवहार नहीं कर रहे हैं, अपनी कंपनी और अर्थव्यवस्था के हित में होगा कि वे आईना देखें और अपने व्यक्तिगत व्यवहार में सुधार लाएँ."

उनका सुझाव है कि ब्रिटेन की कंपनियों को उन तरीक़ों पर भी विचार करना चाहिए जिसके तहत वे अधिकारियों का चयन करते हैं और उनको प्रशिक्षण देते हैं.

जबकि जापान के बारे में माना जा रहा है कि कभी सबसे अच्छे प्रबंधन वाला देश दो दशकों में अर्थव्यवस्था में आए ठहराव की वजह से अब सबसे नीचे चला गया है.

संबंधित समाचार