जापानी निर्यात पर सुनामी की मार

जापान में तबाही इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption त्सुनामी से लड़खड़ाई जापानी अर्थव्यवस्था

भूकंप, सुनामी और फिर परमाणु बिजलीघर से विकिरण की वजह से जापान के निर्यात को तगड़ा झटका लगा है.

मार्च के महीने में निर्यात में 2.2 प्रतिशत की कमी आई है जो कि पिछले सोलह महीनों में सबसे ज़्यादा है.

जापान में दुनिया की कई नामी गिरामी कंपनियाँ हैं लेकिन कार और इलेक्ट्रॉनिक्स का सामान बनाने की प्रक्रिया गृह उद्योगों में चलती है.

लोग अपने घरों में छोटे मोटे कलपुर्ज़ें बनाते हैं जिन्हें बड़े कारख़ानों को सप्लाई किया जाता है.

सप्लाई घटी

लेकिन उत्तर-पूर्वी तटवर्ती इलाक़े में सुनामी की लहरों से हज़ारों घर तबाह हो गए और उनके साथ इस तरह के घरेलू उद्योग भी बरबाद हो गए.

इस कारण बड़े कारख़ानों को होने वाली सप्लाई चेन टूट गई.

जापान सरकार कहती है कि इसी कारण मार्च के महीने में निर्यात की दर कम हो गई है.

इसका असर पूरी दुनिया में महसूस किया जा रहा है.

इसी कारण उत्तरी अमरीका में जापानी कंपनी टोयोटा के कारख़ानों में इस साल जून तक सोमवार और शुक्रवार को काम बंद रहेगा.

मुश्किल

Image caption त्सुनामी में गृह उद्योग भी बरबाद हुए

फ़ुकुशीमा परमाणु बिजली संयंत्र को पहुँचे नुक़सान से जापान की अर्थव्यवस्था को और अधिक झटका लगने की आशंका है.

इस संयंत्र में परमाणु विकिरण से प्रदूषित दस हज़ार टन पानी भरा हुआ है और अब कर्मचारी इसकी निकासी के लिए मशक्कत कर रहे हैं.

परमाणु रिएक्टरों से पानी निकालने की प्रक्रिया में संयंत्र परिसर में कई जगहों पर विकिरण वाले पानी के बड़े बड़े चहबच्चे बन गए हैं.

इसके कारण रिएक्टरों को ठंडा रखने वाली प्रणाली को चालू करने में मुश्किल आ रही है.

संबंधित समाचार