नए व्यवसाय के लिए माहौल: भारत पहले चार में

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption भारत उन पहले चार देशों में जहाँ नया व्यवसाय शुरु करने का माहौल बेहतर बताया गया है

दुनिया में नया व्यवसाय या उद्योग शुरु करने के लिए बेहतर माहौल प्रदान करने वाले देशों में भारत पहले चार बेहतरीन देशों में से एक है.

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस द्वारा 24 देशों में 24, 537 लोगों के बीच कराए गए एक सर्वेक्षण में ऐसा पाया गया है. सर्वेक्षण में नया व्यवसाय शुरु करने के लिए माहौल, रचनात्मकता, नवरचना और संबंधित विषयों पर लोगों से सवाल पूछे गए.

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के लिए ग्लोबस्कैन और मोरीलैंड विश्वविद्यालय के प्रोग्रैम फ़ॉर इंटरनेशनल पॉलिसी एटिट्यूड्स ने वर्ष 2010 में जून से सितंबर के बीच ये सर्वेक्षण किया और पाया कि नया व्यवसाय शुरु करने के लिए इंडोनेशिया दुनिया में सबसे अच्छी जगह है.

इंडोनेशिया के बाद अमरीका, कनाडा, भारत और ऑस्ट्रेलिया का नंबर आता है.

ये भी पता चला है कि औद्योगिक देशों के मुकाबले में विकासशील देशों में लोगों के पास नए व्यवसाय शुरु करने के विचार होने की संभावन अधिक है.

'नवरचना में अमरीका-चीन आगे'

लोगों से ये पूछा गया कि क्या उनके देश में नवरचना को कितनी तरजीह दी जाती है, क्या उनके लिए नया व्यवसाय शुरु करना कठिन है, क्या जो लोग नया व्यवसाय शुरु करते हैं उनको अहमियत दी जाती है और नए, बेहतर विचारों वाले लोग उन्हें व्यावहारिक शक्ल दे पाते हैं?

जब लोगों से पूछा गया कि क्या नया व्यवसाय शुरु करना कठिन है, तो जर्मनी में सबसे ज़्यादा लोगों ने असहमति जताई जबकि ब्राज़ील में सबसे अधिक (84 फ़ीसदी) लोगों ने माना कि ऐसा सही है.

विश्व की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं अमरीका और चीन में लोग मानते हैं नवरचना और रचनात्मकता को अहमियत दी जाती है. दोनों देशों में सर्वेक्षण के दौरान जिन लोगों से संपर्क किया गया उनमें से 75 प्रतिशत का ऐसा मानना था.

इंडोनेशिया में 85 प्रतिशत, ब्राज़ील में 54 प्रतिशत और भारत में 67 प्रतिशत लोगों का ऐसा मानना था. लेकिन तुर्की में 65 प्रतिशत और रूस में 61 प्रतिशत लोगों का मानना था कि उनके देश में इन मूल्यों को तरजीह नहीं मिलती है.

सर्वेक्षण में पाया गया कि चाहे विश्व में ऐसी धारणा है कि नया व्यवसाय शुरु करना मुश्किल है, लेकिन दुनिया में 52 प्रतिशत लोग मानते हैं नए और अच्छे विचारों को व्यावहारिक शक्ल दी जा सकती है.

संबंधित समाचार