यूरोज़ोन में बदलाव के प्रस्तावों पर सहमति

इमेज कॉपीरइट Reuters

जर्मनी और फ़्रांस के नेताओं ने कहा है कि वो यूरोज़ोन चलाने को लेकर अहम बदलावों का प्रस्ताव रखेंगे. जर्मनी की चांसलर एंगला मर्केल और फ़्रांसीसी राष्ट्रपति सार्कोज़ी के बीच यूरोपीय देशों के ऋण संकट के लेकर बैठक थी.

दोनों नेताओं ने कहा कि बदलावों का मकसद यूरो इस्तेमाल करने वाले देशों के बीच बेहतर आर्थिक तालमेल होगा. इस बारे में ज़्यादा जानकारी अक्तूबर के अंत तक दी जाएगी.

दोनों नेताओं ने कहा है कि संकट से गुज़र रहे बैंकिंग क्षेत्र को मज़बूत करने के लिए भी सहमति बन गई है.

यूरोप के बैंको में जान फूँकने के तरीकों पर जर्मनी और फ़्रांस में मतभेद रहे हैं. एक अनुमान के मुताबिक ऋण संकट से उबरने के लिए बैंको को 100 अरब यूरो से लेकर 200 अरब यूरो तक चाहिए होंगे.

जर्मनी की चांसलर ने इस बात पर ज़ोर दिया है कि ब्रसल्स में 17-18 अक्तूबर को यूरोपीय नेताओं के सम्मेलन में इन मुद्दों पर स्पष्ट संकेत देने होंगे ताकि विश्वास कायम हो सके.

इस बीच ग्रीस को आर्थिक मदद देने को लेकर चर्चा जारी है. ग्रीस के लिए मध्य नवंबर तक आर्थिक मदद मिलना बेहद ज़रूरी है ताकि वे कर्ज़े का भुगतान कर सके.

यूरोपीय आयोग, यूरोपीय केंद्रीय बैंक और आईएमएफ़ इस बात पर फ़ैसला कर रहे हैं कि ग्रीस को आठ अरब यूरो की मदद दी जाए कि नहीं.

संबंधित समाचार