ऐपल और सैमसंग के बीच जंग

Image caption टचस्क्रीन वाला आईपैड खासा लोकप्रिय हुआ है.

आईपैड और आईफोन बनाने वाली जानी मानी कंपनी ऐपल को टेक्नोलॉजी कंपनी सैमसंग के ख़िलाफ़ एक और जीत हासिल हुई है.

ऑस्ट्रेलिया की एक अदालत ने सैमसंग और ऐपल के बीच पेटेंट विवाद के कारण देश में सैमसंग के नए कंप्यूटर टैबलेट की बिक्री पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया है.

ऐपल का दावा है कि सैमसंग ने ऐपल के आईपैड की टच-स्क्रीन टेक्नोलॉजी का दुरुपयोग किया है. सैमसंग के टैबलेट कंप्यूटरो गैलेक्सी टैब-10.1 पर ये प्रतिबंध लगाया गया है.

ऑस्ट्रेलियाई अदालत के जज का कहना था कि सैमसंग का गैलेक्सी टेबलेट 10.1 ऐपल के आईपैड से बहुत मिलता जुलता है ख़ासकर टच स्क्रीन टेकनोलॉजी के मामले में.

माना जाता है कि अस्थायी प्रतिबंध से सैमसंग को क्रिसमस से पहले काफ़ी नुकसान हो सकता है.

इमेज कॉपीरइट q
Image caption ऐपल और सैमसंग के बीच काफ़ी जंग हो रही है.

वैसे सैमसंग गैलेक्सी पर पहले से ही जर्मनी में बिक्री पर प्रतिबंध लग चुका है.

अमरीका, दक्षिण कोरिया और हालैंड में भी सैमसंग को वैधानिक रुप से चुनौती दी जा चुकी है.

ऐपल और सैमसंग के बीच नौ देशों में स्मार्टफोन और टैबलेट कंप्यूटरों को लेकर क़ानूनी लड़ाई चल रही है और दोनों एक दूसरे पर पेटेंट का उल्लंघन करने का आरोप लगाते रहे हैं.

ऐपल पहले भी कई कंपनियों पर आरोप लगाता रहा है कि कंपनियां उसकी तकनीक चुराती हैं.

ऐपल और सैमसंग के बीच अप्रैल महीने से ही तकनीक को लेकर विश्व स्तर पर पेटेंट युद्ध चल रहा है.

संबंधित समाचार