ब्रिटेन: बेरोज़गारों की संख्या 17 वर्ष के रिकॉर्ड स्तर पर

 गुरुवार, 13 अक्तूबर, 2011 को 05:22 IST तक के समाचार

ब्रिटेन में प्रधानमंत्री कैमरन की वित्तीय नीति की आलोचना हुई है

ब्रिटेन में आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार बेरोज़गारों की संख्या पिछले 17 सालों में रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गई है और अब बेरोज़गारों की संख्या 25.7 लाख है.

ऑफ़िस ऑफ़ नेशनल स्टैटिस्टिक्स के अनुसार बेरोज़गारी दर भी बढ़कर 8.1 प्रतिशत हो गई है.

इस साल जून से अगस्त के बीच बेरोज़गारों की कुल संख्या 114,000 बढ़ी है.

युवा वर्ग में हालात और भी बुरे हैं. इस तिमाही में 16 से 24 वर्ष के युवाओं की कुल संख्या 9.91 लाख थी और बेरोज़गारी की दर 21.3 प्रतिशत थी.

"एक साल पहले प्रधानमंत्री ने अपनी आर्थिक नीति की सफ़ाई ये कहते हुए दी थी कि बेरोज़गारी इस साल घटेगी, अगले साल, फिर उससे अगले साल. क्या समय नहीं आ गया कि वे माने कि उनकी योजना काम नहीं कर रही है?"

विपक्ष के नेता एड मिलिबैंड

रोज़ग़ार मंत्री क्रिस ग्रेयलिंग का कहना था कि ब्रिटेन अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संकट का असर देख रहा है.

'मानो योजना काम नहीं कर रही'

विपक्ष के नेता एड मिलिबैंड ने हाउस ऑफ़ कॉमन्स में कहा, "एक साल पहले प्रधानमंत्री ने अपनी आर्थिक नीति की सफ़ाई ये कहते हुए दी थी कि बेरोज़गारी इस साल घटेगी, अगले साल, फिर उससे अगले साल. क्या समय नहीं आ गया कि वे माने कि उनकी योजना काम नहीं कर रही है?"

उधर प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने इन आलोचनाओं को ख़ारिज किया और कहा कि वे वित्तीय घाटे को 10 प्रतिशत घटाने के बारे में प्रतिबद्ध हैं.

उनका कहना था कि बुधवार को आए आंकड़ो बहुत ही निराशाजनक है और नौकरी खोने वाले हर व्यक्ति और उसके परिवार के लिए वह दुखद बात है, इसलिए सरकार हर संभव कोशिश करेगी कि लोगों को नौकरी दिलाने में मदद की जाए.

बैंक ऑफ़ इंग्लैंड ने हाल में घोषणा की थी कि वह अर्थव्यवस्था में 75 अरब पाउंड डालेगी.

ग़ौरतलब है कि क्रेटिड रेटिंग एजेंसी मूडीज़ ने हाल में ब्रिटेन के दो सरकारी बैंकों सहित 12 वित्तीय संस्थानों की क्रेडिट रेटिंग घटाई थी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.