राजरत्नम पर नौ करोड़ बीस लाख डॉलर का जुर्माना

अमरीका में न्यूयॉर्क के एक जज ने पूर्व हेज फ़ंड मैनेजर राज राजरत्नम पर इनसाइडर ट्रेडिंग के लिए नौ करोड़ बीस लाख डॉलर का जुर्माना लगाया है.

वित्तीय नियामक सेक्युरिटीज़ एंड एक्सचेंज कमिशन (एसईसी) ने राजरत्नम के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया था. वकीलों का कहना है कि इसी से जुड़े आपराधिक मामले में राजरत्नम छह करोड़ 38 लाख डॉलर का जुर्माना पहले ही दे चुके हैं.

गोपनीय जानकारी के आधार पर शेयरों की ख़रीद-फ़रोख़्त करने के लिए उन्हें पिछले महीने ही 11 साल की सज़ा सुनाई गई है. उनकी जेल की सज़ा दिसंबर से शुरु होगी.

भेदिया कारोबार का ये अमरीका में सबसे बड़ा मामला माना जा रहा है.

राजरत्नम श्रीलंकाई मूल के अरबपति हेज फ़ंड मैनेजर हैं. हेज फंड ऐसा पूँजी निवेश फंड होता है जिसमें चुनिंदा लोग ही निवेश कर सकते हैं.

शेयर बाज़ार में जब किसी कंपनी के बारे में अंदर की जानकारी या सार्वजनिक न हुई विशेष जानकारी के आधार पर व्यापार होता है तो उसे 'इनसाइडर ट्रेडिंग' की संज्ञा दी जाती है. इसे शेयर बाज़ार के नियमों का उल्लंघन माना जाता है.

राजरत्नम को अक्तूबर 2009 में गिरफ़्तार किया गया था.