जापान की अर्थव्यवस्था में गिरावट

इमेज कॉपीरइट AFP

जापान की अर्थव्यवस्था में 2011 के आख़िरी तीन महीनों में आशंका से ज़्यादा गिरावट आई है.

पिछले साल के मुकाबले सकल घरेलू उत्पाद 2.3 फ़ीसदी गिरा. विशेषज्ञों का अनुमान था कि ये गिरावट 1.4 फ़ीसदी होगी.

यूरोप में जारी आर्थिक संकट, येन की मज़बूती और थाईलैंड में आई बाढ़ को इसकी वजह माना जा रहा है.ये आँकड़े ऐसे समय आए हैं जब विश्व में आर्थिक मंदी को लेकर चिंता जताई जा रही है.

साथ ही यूरोज़ोन भी ऋण संकट से जूझ रहा है. वहीं भारत और चीन जैसी बड़ी अर्थव्यवस्थाएँ भी कुछ धीमी पड़ रही हैं.

ऋण संकट के कारण यूरोप में उत्पादों की माँग कम हुई है. यूरोप जापान के लिए बड़ा बाज़ार रहा है.

पटरी पर लाने की कोशिश

पिछले साल सुनामी और भूकंप के बाद अपनी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की जापान की कोशिशों को नए आँकड़ों से धक्का लगा है.

विशेषज्ञों का कहना है कि निर्यात में आई गिरावट के कारण जापान में उद्योगों पर बुरा असर पड़ा है.

अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में येन की मज़बूती ने हालात और बिगाड़ दिए हैं. मज़बूत येन के कारण जापानी सामान विदेशों में महंगा मिल रहा है और निर्यातकों को मुनाफ़ा भी कम हो रहा है.

थाईलैंड में आई बाढ़ की वजह से भी कई जापानी फ़ैक्ट्रियों के काम पर असर पड़ा था क्योंकि वहाँ से कच्चा माल नहीं पहुँचा.

संबंधित समाचार