बीपी तेल रिसाव का मुआवजा देने को तैयार

 शनिवार, 3 मार्च, 2012 को 11:30 IST तक के समाचार
तेल रिसाव

इस तेल रिसाव में चालीस लाख बैरल तेल समुद्र में फैल गया था.

वर्ष 2010 में समुद्र में तेल फैलाने के एक मामले में ब्रितानी तेल कंपनी बीपी और याचिकाकर्ताओं का प्रतिनिधित्व कर रहे एक दल के बीच समझौता हो गया है.

बीपी ने कहा है कि मुआवजे के दावेदारों के साथ उसने 7.8 अरब डॉलर मुआवजे का समझौता किया है.

इससे पहले समझौते की जानकारी एक अमरीकी न्यायाधीश कार्ल बार्बियर ने दी और कहा कि इसकी वजह से सोमवार से शुरु होने वाली सुनवाई आगे के लिए टल जाएगी.

अप्रैल 2010 में मैक्सिको की खाड़ी मे तेल उत्खनन करने वाली एक रिग के फटने से 11 लोगों की मौत हो गई थी और चालीस लाख बैरल तेल समुद्र में फैल गया था.

इस सुनवाई में तेल रिसाव की वजह से मुआवजे और हर्जाने की मांग को निपटाने पर बहस होनी थी. अगर मामले में बीपी को भारी लापरवाही का दोषी पाया जाता है तो कंपनी पर अरबों डॉलर का दंड लग सकता है.

हर्जाने पर सुनवाई

बीपी ने सफाई के लिए और मुआवजे के तौर पर अब तक साढे सात अरब डॉलर का भुगतान किया है.

न्यायाधीश बार्बियर ने कहा कि समझौते के बाद ये सुनवाई टाल दी गई है ताकि 'सभी पक्षों को अपनी स्थिति का जायजा लेने का मौका मिल सके.'

न्यायाधीश बार्बियर को सामुद्रिक कानून का विशेषज्ञ माना जाता है. उन्होंने इस रिसाव से संबंधी सैकड़ों मुकदमों को एक साथ जोड़ दिया है.

रिसाव से संबंधित सभी पक्षों में हरेक को कितना ज़िम्मेदार ठहराया जाए और क्या दंड के रूप में हर्जाना तय किया जाए इसका फैसला जज बार्बियर को करना है.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने दो साल पहले हुए उस रिसाव को 'अमरीकी इतिहास में सबसे खराब पर्यावरण त्रासदी' की संज्ञा दी थी.

तेल के रिसाव को पूरी तरह रोकने में 85 दिनों का वक्त लगा था.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.