'फर्स्ट फ्लश' की चुस्कियां होंगी मंहगी

चाय इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption मौसम की खराबी से उत्पादन 50 फीसद तक गिरने की संभावना है.

दुनिया की सबसे मशहूर और महंगी चायों में से एक दार्जिलिंग की 'फर्स्ट फ्लश' चाय इस साल मिलनी मुश्किल हो सकती है.

'फर्स्ट फ्लश' चाय यानि वर्ष के शुरुआत में एकत्र की जानी वाली पत्ती सबसे महंगी और बेहतरीन मानी जाती है.

दार्जिलिंग टी एसोसियशन का कहना है कि कम बारिश, अधिक धूप और ठंड के कारण इस साल 'फर्स्ट फ्लश' का उत्पादन 50 प्रतिशत कम होने की संभावना है.

एसोसियशन के मुख्य सलाहकार संदीप मुखर्जी ने बीबीसी को बताया, ''मार्च तक पर्याप्त बारिश नहीं हुई. वैसे ही ठंड के मौसम में मिट्टी सूख जाती है लेकिन बारिश कम होने की वजह से चाय के पौधे भी सूख रहे हैं. पत्ती नहीं मिल रही. पिछले साल के मुकाबले अभी तक उत्पादन 50 प्रतिशत कम हो चुका है.''

सिर्फ इस साल ही नहीं, पिछले एक दशक से ही दार्जिलिंग का मौसम अस्थिर रहा है.

दाम

संदीप मुखर्जी का कहना है, ''पिछले एक दशक में बारिश 22 फीसद कम हो गई है. दूसरी तरफ धूप ठीक से नहीं मिल रही है. ठंड ज्यादा हो रही है. कभी कभी जरूरत से ज्यादा बारिश हो जाती है. चाय के पेड़ के लिए एक उचित मौसम की जरूरत होती है लेकिन वो बदलता जा रहा है.''

यह चाय दुनिया की सबसे महंगी चायों में से एक है. लेकिन उत्पादन कम होने के कारण अब इसके दाम भी बढ़े सकते हैं.

संदीप मुखर्जी ने बताया कि हर साल लगभग 20 लाख किलो 'फर्स्ट फ्लश' चाय तैयार की जाती है जिसका 80 प्रतिशत निर्यात होता है.

संबंधित समाचार