इंग्लैंड में तम्बाकू उत्पादों के प्रदर्शन पर रोक की तैयारी

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption तम्बाकू उत्पादों को छुपाने के पीछे ये वजह बताई जाती है कि सिगरेट के रंग-बिरंगे आउटलेट युवाओं को धूम्रपान के लिए उकसाते हैं

इंग्लैंड में तम्बाकू उत्पादों के सार्वजनिक प्रदर्शन पर प्रतिबंध लगने वाला है जिससे युवाओं को धूम्रपान की लत से बचाने में मदद मिल सकती है.

ये प्रतिबंध बड़ी दुकानों और सुपरमार्केटों पर लागू होगा लेकिन छोटी दुकानों को वर्ष 2015 तक की मोहलत दी गई है.

इसका मतलब ये है कि सिगरेट और तम्बाकू के अन्य उत्पादों को दुकान के काउंटर पर सजाकर नहीं रखा जाएगा.

ब्रिटेन के अन्य हिस्सों में भी इसे लागू करने की योजना बनाई जा रही है ताकि लोगों की धूम्रपान की आदत को कम किया जा सके.

उम्मीद की जा रही है कि अगले साल से सिगरेट सादे पैकेटों में बेची जाएगी और निर्माताओं को इसके लिए मजबूर किया जा सकता है.

कारगर उपाय

लोक स्वास्थ्य मंत्री ऐन मिल्टन का कहना है कि आयरलैंड में इस तरह के उपाय कारगर रहे हैं.

वे कहती हैं, ''हम इस तथ्य की अनदेखी नहीं कर सकते कि युवा रंग-बिरंगे और आंखों को लुभाने वाली सिगरेटों की ओर देखकर ललचा जाते हैं.''

वे कहती हैं, ''ज्यादातर वयस्क धूम्रपान तब शुरु करते हैं जब वे किशोर अवस्था में होते हैं. हमें इस रुझान को रोकने की जरूरत है.''

सरकार के इस कदम से तम्बाकू उद्योग खुश नहीं है.

ब्रिटिश अमेरिकी तम्बाकू के एक प्रवक्ता का कहना है, ''हमें नहीं लगता कि तम्बाकू उत्पादों को छिपाने से युवा और दूसरे लोग धूम्रपान नहीं करेंगे.''

वे कहते हैं कि इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि तम्बाकू उत्पादों को छुपाना तर्कसंगत है.

कनाडा, आयरलैंड और फिनलैंड समेत कई देशों में इस तरह का प्रतिबंध पहले ही लगाया जा चुका है.

संबंधित समाचार