सोनी में जाएँगी 10,000 नौकरियाँ

 गुरुवार, 12 अप्रैल, 2012 को 12:18 IST तक के समाचार
सोनी के मुख्य कार्यकारी

सोनी के मुख्य कार्यकारी ने इस कटौती की घोषणा की

इलेक्ट्रॉनिक्स दुनिया की बड़ी कंपनी सोनी ने घोषणा की है कि वह 10 हज़ार नौकरियों में कटौती करने जा रही है.

कंपनी के नए मुख्य कार्यकारी काज़ुओ हिराई ने एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की.

इससे पहले मंगलवार को घोषणा की गई थी कि सोनी को लगभग साढ़े छह अरब डॉलर का रिकॉर्ड वार्षिक नुक़सान होने की आशंका है. ये पूर्वानुमान का भी दो गुना है.

सोनी को टेलीविज़न के व्यापार में दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग और एलजी से कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है वहीं दूसरी ओर फ़ोन के मामले में ऐपल उसके सामने है.

कंपनी ने बताया है कि नौकरियों में ये कटौती अगले 12 महीनों में की जाएगी.

ये कटौती सोनी के उन व्यापारों में की जाएगी जिन्हें वो बेच रही है. इनमें फ़्लैट स्क्रीन बनाने में कंपनी की संयुक्त भागीदारी जैसे व्यापार हैं.

सोनी का कहना है कि आगे वह अपना ध्यान तीन मुख्य क्षेत्रों पर देगी जो डिजिटल इमेजिंग, गेम्स कॉन्सोल और मोबाइल उपकरण होंगे.

भारी नुक़सान

इस कटौती में सोनी को इस वित्त वर्ष में 92 करोड़ 60 लाख डॉलर का ख़र्च उठाना होगा.

कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सोनी अब इलेक्ट्रॉनिक्स के बिज़नेस में नई जान फूँककर उसे अलग ऊँचाइयों तक ले जाना चाहता है.

सोनी को टेलीविज़न बिज़नेस में पिछले आठ साल से नुक़सान हो रहा है. विश्लेषकों का कहना है कि हालाँकि वह हर साल लगभग दो करोड़ टीवी सेट बेच रहा है मगर फिर भी ये इतना नहीं है कि उससे लाभ हो सके.

इस समस्या का हल निकालते हुए सोनी अब तक टीवी के जितने मॉडल बनाता है वह 2013 तक उसमें से 40 फ़ीसदी कम कर देगा.

उधर प्रतिद्वन्द्वी टीवी निर्माता जापानी कंपनी शार्प को भी भारी नुक़सान होने की आशंका है. उसे भी इस साल लगभग साढ़े चार अरब डॉलर के नुक़सान की आशंका है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.