फेसबुक के शेयर जल्दी ही बाजार में

फेसबुक इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption फेसबुक के आईपीओ से कंपनी का कद और बढ़ेगा

सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पहली बार बाजार में अपने शेयर उतारने जा रही है जिनकी कीमत प्रति शेयर 28 डॉलर (लगभग 1,500 रुपये) से 35 डॉलर (1,850 रुपये) के बीच होगी.

कंपनी के शुरुआती शेयर (आईपीओ) जारी होने के बाद फेसबुक 85 अरब डॉलर (4,539 अरब रुपये) से 95 अरब डॉलर (5,074 अरब रुपये) के बीच के मूल्य वाली कंपनी बन जाएगी. वह गूगल को कहीं पीछे छोड़ देगी जिसका मूल्य 2004 में आईपीओ आने के वक्त 23 अरब डॉलर (1,228 अरब रुपये) था.

फेसबुक नैसडेक में अपने शेयर उतारेगी और वहां उसका मुकाबला एमेजोन्स और सिस्को सिस्टम्स जैसी कंपनियों से होगा.

माना जा रहा है कि फेसबुक सोमवार से अपने आईपीओ का प्रचार शुरू कर देगी. उम्मीद है कि इसके शेयर 18 मई से ‘एफबी’ प्रतीक के साथ शेयर कारोबार का हिस्सा बन जाएंगे.

मोबाइल क्षेत्र पर उम्मीदें

कंपनी अपनी दस प्रतिशत हिस्सेदारी को आईपीओ के जरिए बेचेगी जिससे उसे 12 अरब डॉलर की रकम मिलने की उम्मीद है.

आठ साल पुरानी इस सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट को दुनिया भर में 90 करोड़ लोग इस्तेमाल करते हैं और पिछले साल उसका मुनाफा एक अरब डॉलर रहा.

फेसबुक के आईपीओ को हाथोंहाथ लिए जाने की उम्मीद है, हालांकि कुछ निवेशक कंपनी की दीर्घकालीन वृद्धि की संभावनाओं को लेकर आशंकित भी हैं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption फेसबुक ने कहा है कि उसका मोबाइल क्षेत्र में बड़े निवेश का इरादा है

पिछले साल, फेसबुक ने पहली बार दो साल की अवधि के बीच तिमाहियों के दौरान अपने राजस्व में गिरावट की बात कही.

लेकिन गुरुवार को एक वीडियो प्रजेंटेशन के दौरान फेसबुक के अधिकारियों ने इस तरह की चिंताओं को ये कह कर दूर करने की कोशिश की कि कंपनी मोबाइल क्षेत्र में भारी निवेश की योजना बना रही है.

पिछले महीने ही फेसबुक ने कहा कि वह तेजी से बढ़ रहे मोबाइल फोन फोटो शेयरिंग एप इंस्टाग्राम को एक अरब डॉलर में खरीदने जा रही है. यह फेसबुक की अब तक की सबसे बड़ी खरीद होगी.

जकरबर्ग का नियंत्रण

फेसबुक का मूल्य अब भी 100 अरब डॉलर के उस आंकड़े से कम है जिसकी बात काफी समय से कही जाती रही है.

लेकिन अगर निवेशकों के बीच आईपीओ की मांग बढ़ती है तो उसकी कीमत में स्वाभाविक तौर पर इजाफा होगा.

आईपीओ आने के बाद भी फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग का कंपनी पर नियंत्रण बना रहेगा.

उनकी दौलत में भी इजाफा होगा और वह 17.6 अरब डॉलर के साथ दुनिया के सबसे अमीर लोगों की फोर्ब्स सूची में लगभग 33वें स्थान पर आ सकते हैं.

संबंधित समाचार