अलीबाबा याहू से अपनी आधी हिस्सेदारी वापस खरीदेगा

अलीबाबा का लोगो इमेज कॉपीरइट Other
Image caption अलीबाबा चीन में ऑनलाइन मार्केट की एक बेवसाइट चलाता है.

अमरीकी इंटरनेट कंपनी याहू ने कहा है कि वो चीन की सबसे इंटरनेट कंपनी अलीबाबा में अपनी हिस्सेदारी का एक आधा हिस्सा वापस अलीबाबा को बेच रही है.

कई वर्षों तक चली वार्ताओं के बाद अलीबाबा याहू के पास अपनी 40 प्रतिशत हिस्सेदारी में से आधी को वापस खरीद रहा है. इस समझौते के तहत ऑनलाइन विज्ञापन हासिल करने की दौड़ में गूगल और फेसबुक से पिछड़ रहे याहू को 7.1 बिलियन अमरीकी डॉलर मिलेंगे.

समझौते के तहत अलीबाबा के पास अपने शेयर बाज़ार में उतारने का भी अधिकार होगा. दोनों कंपनियों ने एक बयान जारी कर कहा है कि अलीबाबा याहू को 6.3 बिलियन अमरीकी डॉलर कैश में 80 करोड़ डॉलर के शेयर देगा.

याहू के लिए ये अच्छी खबर है क्योंकि अब कंपनी अधिग्रहण कर सकती है या बाज़ार से अपने शेयर वापिस खरीद सकती है.

‘नया अध्याय’

याहू के मुख्य वित्तीय अधिकारी टिमथी आर मोर्स ने कहा, “हम इस सौदे से आने वाली रकम को अपने शेयरधारकों तक पहुंचाना चाहते हैं.”

समझौते के मुताबिक अलीबाबा के पास भविष्य में याहू में बाकी बचे 20 प्रतिशत शेयरों को खरीदने का भी अधिकार होगा. लेकिन ऐसा तभी संभव होगा जब अलीबाबा खुले बाज़ार में अपने शेयर बेचने की पेशकश करता है.

अलीबाबा कई वर्षों से याहू में अपनी कंपनी की हिस्सेदारी वापस खरीदने का प्रयास कर रहा था लेकिन ये वार्ताएं कई बार नाकाम खत्म हुई थीं.

अलीबाबा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक मा ने कहा, “इस सौदे ने याहू के साथ नए संबंधों में नया अध्याय शुरू कर दिया है. ”

अलीबाबा समूह चीन में लोकप्रिया ऑनलाइन मार्केट ताओबाओ चलाता है.

जैक मा ने कहा कि उन्हें भविष्य में दोनों कंपनियों के एक साथ काम करने की उम्मीद है.

संबंधित समाचार