चीन के निर्यात में अप्रत्याशित वृद्धि

चीन का निर्यात इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption उद्योगिक उत्पाद मई में 9.6 प्रतिशत से बढ़ा है

चीन का निर्यात बढ़ा है और महंगाई कम हुई है. मई के महीने में निर्यात पिछले साल के मुकाबले 15.3 प्रतिशत बढ़ा जो कि उम्मीद से अधिक था. अप्रैल में यह 4.9 प्रतिशत से बढ़ा था.

हालांकि उद्योगिक उत्पाद और खुदरा व्यापार में अभी भी निराशा बरकरार है.

बीजिंग में आईएचएस ग्लोबल इनसाइट के एलिस्टर थॉरनटन ने कहा, ''घरेलू अर्थव्यवस्था काफी तेजी से धीमी हो रही है. अगले कुछ महीनों में यह आयात में भी नजर आएगी. यानी नए आंकड़ों को किसी नई सामान्य स्थिति का सूचक न माना जाए बल्कि इसे एक अपवाद की तरह देखा जाए."

उन्होंने मासिक व्यापार के आंकड़ों में बहुत ज्यादा कुछ पढ़ने के खिलाफ चेतावनी दी, खास तौर पर तब जबकि बाकी आंकड़े घरेलू अर्थव्यवस्था की निराशाजनक तस्वीर दर्शा रहे हैं.

उद्योगिक उत्पाद मई में 9.6 प्रतिशत से बढ़ा है जो कि उम्मीद से कम है.

खुदरा बिक्री भी अनुमान से काफी कम है और फरवरी 2011 के बाद से अपने सबसे कम गति से बढ़ी है.

गुरुवार को चीन के केंद्रीय बैंक ने ब्याज दर में कटौती की थी. ऐसा तीन सालों में पहली बार किया गया था ताकि मंदी की चिंता के चलते विकास को बढ़ावा दिया जा सके.

'स्थिति काफी गंभीर'

थॉर्नटन ने कहा, ''कल हमने काफी निराशाजनक आंकड़े देखे हैं, और यह ब्याज दर में कटौती के बाद आए हैं जिससे यह पता चलता है कि हमारे नीति निर्धारक अर्थव्यवस्था की अवस्था को लेकर काफी गंभीर हैं.''

उपभोक्ता महंगाई दर मई में कम हो कर तीन प्रतिशत हुआ है. यह सरकार के चार प्रतिशत के लक्ष्य से काफी कम है.

विश्लेषकों का कहना है कि इससे नीति निर्धारकों को नीतियां बनाने और विकास को बढ़ावा देने का अवसर मिलेगा.

संबंधित समाचार