चीन: नैतिकता का हवाला, 'बेहूदा शो' बंद होंगे

चीन रियलिटी इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption चीन में रियलिटी शो ख़ासे लोकप्रिय हैं

समाज में पारंपरिक मूल्यों और नैतिकता को बढ़ावा देने के लिए चीन की सरकार ने अगले साल से कई 'एंटरटेनमेंट और रियलिटी' कार्यक्रमों पर रोक लगाने की योजना बनाई है.

ये योजना पिछले हफ़्ते कम्युनिस्ट पार्टी की एक बैठक के बाद बनी है जिसके तहत सामाजिक नैतिकता को बल देने पर सहमति बनी थी.

चीन के टीवी चैनल ख़ासे लोकप्रिय हैं लेकिन जब वे अपना ख़ासा ध्यान एंटरटेनमेंट कार्यक्रमों पर केंद्रित करते हैं तो सरकार उनसे नाराज़ हो जाती है.

बीजिंग में बीबीसी संवाददाता मार्टिन पेशेंस के अनुसार, "इस मामले में नए आदेश रेडिया, फ़िल्म और टीवी विभाग की ओर से आए हैं और इनका मक़सद सामाजिक नैतिकता को बल देना है."

सुपर गर्ल कार्यक्रम बंद कराया

मार्टिन पेशेंस कहते हैं कि टॉक शो, टेलेंट शो, रियलिटी शो और सरकार के अनुसार 'बेहूदा रुझानों' को बढ़ावा देने वाले कार्यक्रम को निशाना बनाया गया है.

नए नियमों के अनुसार देश के 34 टीवी चैनलों पर 'पीक टाइम' यानी उस समय जब सबसे अधिक लोग इन चैनलों को देखते हैं, केवल नौ ऐंटरटेनमेंट कार्यक्रम प्रसारित किए जाएँगे.

अन्य कार्यक्रमों की जगह डॉक्यूमेंट्री और न्यूज़ कार्यक्रम प्रसारित किए जाएँगे जो पारंपरिक मूल्यों पर बल देते हैं.

पिछले महीने सरकार ने एक टीवी स्टेशन को ख़ासे लोकप्रिय टेलेंट शो - सुपर गर्ल - के प्रसारण को बंद करने का आदेश दिया था और कारण ये बताया गया था कि वह बहुत लंबा है.

लेकिन उस टीवी स्टेशन के एक कर्मचारी ने कहा कि सरकार इस बात से जलती है कि ऐसे कार्यक्रम इतने सफल और लोकप्रिय क्यों है.

संबंधित समाचार