चीनी कलाकार पर 23 लाख डॉलर का जुर्माना

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption आई वेईवेई ने क़रीब तीन महीने हिरासत में बिताए थे लेकिन उन्हें कभी गिरफ़्तार नहीं किया गया

सरकार के मुखर विरोधी रहे चीनी कलाकार आई वेईवेई ने कहा है कि अधिकारियों ने उन्हें कर चोरी के कथित मामले में 15 दिन के भीतर 23 लाख डॉलर का भुगतान करने का नोटिस दिया है.

उन्होंने कहा कि चीनी सरकार के नोटिस को उन्होंने ख़ारिज़ कर दिया है और ये तय नहीं किया है कि वो इसका भुगतान करेंगे या नहीं.

चीन के सबसे मशहूर कलाकार आई वेईवेई को इस साल की शुरुआत में आर्थिक अपराध का आरोप लगने से पहले तीन महीने के लिए हिरासत में रखा गया था.

उनके समर्थकों का कहना है कि उनके ख़िलाफ़ लगाए गए आरोप दरअसल उनकी ज़ुबान बंद करने की कोशिश है क्योंकि वो सरकार की मुखर आलोचना करते रहे हैं.

आई वेईवेई ने समाचार एजेंसी रॉयटर को बताया कि वो पैसे का भुगतान तभी करेंगे जब इसे कर चोरी से जुड़ा मामला साबित कर दिया जाएगा.

'सबूत नहीं'

उन्होंने कहा कि वो अपनी कंपनी के बही-खाते की भी जांच नहीं कर पाए हैं क्योंकि उसे अधिकारियों में अपने कब्ज़े में ले रखा है.

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि ऐसे कोई सबूत पेश नहीं किए गए हैं जिससे ये साबित हो कि उनकी कंपनी ने करों की चोरी की है.

उन्होंने कहा,"अगर ये कर से जुड़ा मामला है तो मैं इसका भुगतान करूंगा, लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो मैं कोई पैसे नहीं दूंगा. ये पूरा मामला हास्यास्पद लगता है.''

आई वेईवेई को इसी साल अप्रैल महीने में वेबसाइट पर मध्यपूर्व जैसी जैस्मिन क्रांति के आह्वान के बाद दूसरे प्रदर्शनकारियों के साथ पकड़ लिया गया था.

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने कहा कि जून में आई वेई वेई को इसलिए छोड़ दिया गया था क्योंकि उन्होंने कर चोरी की बात स्वीकार कर ली थी और कहा था कि वो बक़ाया राशि का भुगतान कर देंगे.

हिरासत में लिए जाने के बाद से आई वेईवेई अधिकारों के लिए आवाज़ उठाने वालों और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की आलोचना करनेवालों के प्रेरणास्रोत बन गए हैं.

आई वेईवेई को उनकी कला के लिए अब तक कई पुरस्कार दिए जा चुके हैं और हाल ही में एक पत्रिका द्वारा कराए गए सर्वेक्षण में उन्हें दुनिया का सबसे शक्तिशाली कलाकार घोषित किया गया था.

संबंधित समाचार