अई वेईवेई ने अदा की कर की पहली किस्त

अई वेईवेई इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption अई वेईवेई ने कहा कि 10 लाख डालर (यानि करीब पांच करोड़ रुपए) के भुगतान के बाद अब उनकी कंपनी कर की मांग को चुनौती दे सकेगी.

चीनी कलाकार अई वेईवेई ने कहा है कि उन्होंने अपने 24 लाख डालर (लगभग 12 करोड़ रुपए) के कर की पहली किस्त दे दी है.

उन्होंने बीबीसी से कहा कि 10 लाख डालर (यानी क़रीब पांच करोड़ रुपए) के भुगतान के बाद अब उनकी कंपनी कर की मांग को चुनौती दे सकेगी.

उन्होंने कहा कि यह भुगतान स्वतंत्रता के अधिकार की क़ीमत है.

वह पहले ही इस कर की मांग को चुनौती देने का अपना इरादा बता चुके हैं. मंगलवार तक उन्हें इसका भुगतान करना था.

लेकिन उनके वकील ने बीबीसी को बताया कि इस पर विचार चल रहा है कि कर की मांग को कैसे चुनौती दी जाए.

'चुप' कराने के लिए

वेईवेई ने यह भी कहा था कि कर अधिकारी मामले को पुलिस को सौंपने की धमकी दे रहे हैं.

कुछ लोगों का कहना है कि कर की मांग केवल इस व्यक्ति को चुप कराने का प्रयास है जो सरकार का बहुत बड़ा आलोचक रहा है.

अपने काम के लिए विश्व में विख्यात वेईवेई को कर और जुर्मानों का यह बिल नवंबर माह के शुरू में भेजा गया था.

कर की यह मांग उनके काम को प्रदर्शित करने वाली कंपनी बीजिंग फ़ेक कल्चरल डेवलपमेंट लिमिटेड से जुड़ी है.

डिज़ाइनर या संचालक?

कलाकार का कहना है कि वे केवल कंपनी के 'डिज़ाइनर' हैं, जबकि अधिकारियों का कहना है कि वे इसके संचालक हैं.

वेईवेई ने पहले इस पर विचार किया कि भुगतान किया जाए या नहीं. बाद में उन्होंने इसे चुनौती देने का फ़ैसला किया.

क़ानूनी कार्रवाई करने के लिए उन्हें बांड के तौर पर इस की आधी राशि जमा करनी थी.

उन्होंने कहा था कि इसमें से अधिकतर पैसा उस रक़म में से आएगा, जो उनके समर्थकों ने दान में दी है.

संबंधित समाचार