BBC World Service LogoHOMEPAGE | NEWS | SPORT | WORLD SERVICE DOWNLOAD FONT | Problem viewing?
BBCHindi.com

पहला पन्ना
भारत और पड़ोस
खेल और खिलाड़ी
कारोबार
विज्ञान
आपकी राय
विस्तार से पढ़िए
हमारे कार्यक्रम
प्रसारण समय
समाचार 
समीक्षाएं 
आजकल 
हमारे बारे में
हमारा पता
वेबगाइड
मदद चाहिए?
Sourh Asia News
BBC Urdu
BBC Bengali
BBC Nepali
BBC Tamil
 
BBC News
 
BBC Weather
 
 आप यहां हैं: 
 क्रिकेट वर्ल्ड कप
मंगलवार, 11 मार्च, 2003 को 12:18 GMT तक के समाचार
ग़ुस्से में हैं होल्डिंग
माइकल होल्डिंग नाराज़ हैं
माइकल होल्डिंग नाराज़ हैं



कभी बल्लेबाज़ों के मन में ख़ौफ़ पैदा करने वाले वेस्ट इंडीज़ के तूफ़ानी गेंदबाज़ माइकल होल्डिंग अपनी टीम के वर्ल्ड कप से बाहर होने पर नाराज़ हैं, अपनी टीम से नहीं बल्कि आईसीसी से.

वो कहते हैं कि दक्षिण अफ़्रीका, वेस्ट इंडीज़, पाकिस्तान और इंग्लैंड जैसी टीमों के पहले दौर में ही बाहर होने से वर्ल्ड कप का मज़ा किरकिरा हुआ है और ये इन टीमों के ख़राब प्रदर्शन की वजह से नहीं हुआ है.


मेरे हिसाब से ऑस्ट्रेलिया ही इस दौड़ में सबसे आगे है लेकिन भारत उसे चौंका सकता है

माइकल होल्डिंग
बीबीसी के साथ एक ख़ास बातचीत में उन्होंने कहा, "अगर कमज़ोर टीमें बड़ी टीमों को मात दे कर अगले दौर में पहुँचे तो किसी को कोई एतराज़ नहीं होगा.लेकिन यहाँ तो कीनिया और ज़िम्बाब्वे तोहफे में मिले अंकों के दम पर ही सुपर सिक्स में पहुँचे हैं. और आईसीसी चुपचाप देखती रही. "

होल्डिंग कहते हैं कि इस सब की शुरुआत 1996 में हुई थी जब वेस्ट इंडीज़ और ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका में खेलने से मना कर दिया था और श्रीलंका को आठ अंक तोहफ़े में मिल गए थे.

तब भी आईसीसी ने कुछ नहीं किया और उस घटना से कोई सबक भी नहीं लिया.

इस बार न्यूज़ीलैंड ने कीनिया में खेलने से मना किया और चार अंक कीनिया को मिले जबकि इंग्लैंड ने ज़िम्बाब्वे को चार अंकों का तोहफ़ा दिया.

ये 4-4 अंक इन दोनों टीमों को सुपर सिक्स में पहुँचाने के लिए काफ़ी साबित हुए.

दक्षिण अफ़्रीका और पाकिस्तान तो ख़ैर अपने ख़राब खेल की वजह से ही हारे लेकिन वेस्ट इंडीज़ और इंग्लैंड अच्छा खेलने के बावजूद सुपर सिक्स टीमों में नहीं आ पाए.

अगला वर्ल्ड कप 2007 में वेस्ट इंडीज़ में होना है तो मैंने होल्डिंग से पूछा कि क्या वो चाहेंगे कि ये नियम अब बदल दिए जाएँ.

होल्डिंग शरारत भरे अंदाज़ में बोले अब मैं नहीं चाहूँगा कि ये नियम बदले.

हम वेस्ट इंडीज़ के सारे मैच किंग्सटन जमैका और जॉर्जटाउन गयाना में कराएँगे और फिर विरोधी टीमों को कुछ धमकी भरी चिट्ठियाँ भिजवा देंगे ताकि वो खेलने न आएँ और हमें पूरे अंक मिल जाएँ.

भारत को सलाह

इस वर्ल्ड कप के बारे में होल्डिंग कहते हैं," मेरे हिसाब से ऑस्ट्रेलिया ही इस दौड़ में सबसे आगे है लेकिन भारत के अलावा न्यूज़ीलैंड भी उसे चौंका सकता है. मुझे लगता है कि वर्ल्ड कप इन्हीं तीनों में से कोई जीतेगा''.

होल्डिंग भारत को सलाह देते हैं कि अगर उसे ऑस्ट्रेलिया को हराना है तो शुरु से ही दबाव बनाना होगा.


अगर भारत को ऑस्ट्रेलिया को हराना है तो शुरु से ही दबाव बनाना होगा

माइकल होल्डिंग
होल्डिंग ने कहा गेंदबाज़ी करते समय ऑस्ट्रेलिया के शुरुआती विकेट जल्दी गिराने होंगे.

और बल्लेबाज़ी करते वक़्त किसी तरह शुरु के दस-बारह ओवर निकाल दें जिनमें ग्लेन मैकग्रा और ब्रेट ली ख़तरनाक साबित हो सकते हैं.

इन दोनों के बाद ऑस्ट्रेलियाई गेदबाज़ी में कुछ ख़ास दम नहीं है क्योंकि न तो शेन वॉर्न हैं और न ही जेसन गिलेस्पी.

होल्डिंग कहते हैं कि ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ आशीष नेहरा काफ़ी कारगर साबित हो सकते हैं क्योंकि वो गेंद को स्विंग कराने में माहिर हैं और शुरुआती विकेट ले सकते हैं.

होल्डिंग भारतीय कप्तान सौरभ गांगुली से भी प्रभावित हैं.

वो कहते हैं कि गांगुली समय के साथ और बेहतर कप्तान बनते जा रहे हैं और लगता है कि टीम का विश्वास भी उनमें बढ़ता जा रहा है.
 
 
अन्य ख़बरें
28 फरवरी, 2003
वेस्टइंडीज़ सुपरसिक्स से 'बाहर'
11 मार्च, 2003
देख तमाशा लकड़ी का!
08 मार्च, 2003
डॉनल्ड ने वनडे क्रिकेट छोड़ा
इंटरनेट लिंक्स
वर्ल्ड कप
बीबीसी अन्य वेब साइट की विषय सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है
कुछ और पढ़िए
भारत की शुरूआत जीत से
शोएब पर भरोसा बरक़रार
इमरान फिर मैदान में
किसी तरह जीते कोस्टा
सहवाग बने उपकप्तान
सुस्त गेंदबाज़ी पर जुर्माना
'नेताओं को निकाल बाहर करो'







BBC copyright   ^^ हिंदी

पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल और खिलाड़ी
कारोबार | विज्ञान | आपकी राय | विस्तार से पढ़िए
 
 
  कार्यक्रम सूची | प्रसारण समय | हमारे बारे में | हमारा पता | वेबगाइड | मदद चाहिए?
 
 
  © BBC Hindi, Bush House, Strand, London WC2B 4PH, UK