ए दिल है मुश्किल की मुश्किल मोदी तक !

इमेज कॉपीरइट RAINDROP MEDIA
Image caption फाइल फोटो

पाकिस्तानी हीरो फ़वाद खान की फ़िल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज़ को लेकर चल रहे विवाद में फ़िल्म उद्योग के कुछ नामी गिरामी लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सवालों के दायरे में लाना शुरू कर दिया है और उनसे पाकिस्तान जाने के लिए माफ़ी माँगने को कहा है.

फ़िल्म निर्माता करण जौहर की ये फिल्म रिलीज़ होने से पहले ही चर्चा में आ गई क्योंकि इसमें लीड रोल पाकिस्तानी कलाकार फ़वाद खान कर रहे हैं और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना, कुछ क्षेत्रीय दलों और सिनेमा असोसिएशन इसी वजह से फ़िल्म का विरोध कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Anurag kashyap_tweet
Image caption करण जौहर की फिल्म के समर्थन में आए अनुराग कश्यप

मनसे ने धमकी भी दी है कि फ़वाद के दृश्य नहीं हटाए गए तो वो इस फ़िल्म को वे रिलीज़ नहीं होने देंगे.

लेकिन करण के समर्थन में अब फ़िल्म उद्योग के कुछ लोगों ने साफ़ स्टेण्ड ले लिया है. फ़िल्म का सबसे खुलकर समर्थन करने वालों में निर्माता निर्देशक अनुराग कश्यप हैं.

इमेज कॉपीरइट Anurag kashyap twitter
Image caption अनुराग कश्यप ने नरेंद्र मोदी से भी मांगा जवाब

अनुराग ने ट्वीट करते हुए कहा है, "जिस वक़्त करण जौहर अपनी फ़िल्म की शूटिंग कर रहे थे तब हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी नवाज़ शरीफ़ से मिल रहे थे."

नरेंद्र मोदी को माफ़ी मांगने के लिए कहते हुए अनुराग ने लिखा, "अगर करण की फ़िल्म ग़लत है तो नरेंद्र मोदी को भी माफ़ी मांगनी चाहिए क्योंकि वो भी टैक्स पेयर, यानि हमारे पैसे से पाकिस्तानी प्रधानमंत्री से मिले थे."

इमेज कॉपीरइट Anurag Kashyap twitter

अनुराग ने अपने ट्वीट से नरेंद्र मोदी का ध्यान इस मामले की ओर दिलाने की कोशिश की है साथ ही करण जौहर को आश्वस्त किया कि वो उनके साथ हैं.

हालांकि बाद में अनुराग ने नरेंद्र मोदी से माफ़ी मांगने की मांग वाला ट्वीट और नवाज़ शरीफ़ से मुलाक़ात के ज़िक्र वाला ट्वीट हटा दिया.

उन्होंने इसके बाद ट्वीट किया, "मैं ये साफ़ कर देना चाहता हूं कि मैंने शिकायत की क्योंकि मैं अपनी सरकार से उम्मीद करता हूं कि वो हमारी हिफ़ाज़त करे. मैंने प्रधानमंत्री जी से सवाल किए क्योंकि ये मेरा अधिकार है."

उन्होंने ये भी लिखा, "मीडिया के लोगो. मुझे कॉल करना बंद करो. मुझे जो कहना था वो मैंने यहां कह दिया. और मैंने शराब पीकर ये ट्वीट नहीं किए."

अनुराग कश्यप ने 'सोशल मीडिया पर देशभक्ति' करने वालों को नसीहत देते हुए लिखा, "यहां पर चिल्ला चिल्लाकर अपनी देशभक्ति साबित करने के बजाय सीमा पर जाकर देश की सुरक्षा करो."

उन्होंने राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का नाम लिए बिना उस पर निशाना साधा, "मैं एक ऐसी पार्टी से मुख़ातिब नहीं होना चाहता जो अपना महत्व खो चुकी है और फ़िल्म इंडस्ट्री के ज़रिए ख़बरों में आना चाहती है."

इमेज कॉपीरइट Swara tweet
Image caption स्वरा ने करण जौहर के समर्थन मे किए ट्वीट

अनुराग के ट्वीट के अनुसार, "नरेंद्र मोदी तो देशवासियों के पैसे से वहां गए थे लेकिन करण का तो खुद का पैसा इसमें लगा है, जब मोदी माफ़ी नहीं मांग रहे तो एक हिन्दुस्तानी को पैसे क्यों नहीं कमाने दिए जा रहे हैं."

अनुराग के अलावा फ़िल्म अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने भी ट्वीट कर करण की फ़िल्म के लिए अपनी समर्थन जताया, "ए दिल है मुश्किल के साथ जो हो रहा है उससे पता चलता है कि हमारे देश में सिनेमा कितना असुरक्षित है और हर किसी के गुस्से, विरोध का सामना हमें ही करना पड़ता है."

स्वरा ने कहा,"फ़िल्मों के बहिष्कार या विरोध से ज़्यादा ये स्वघोषित देशभक्त सैनिकों की मदद क्यों नहीं करते ?"

इमेज कॉपीरइट AFP

'ऐ दिल है मुश्किल' के समर्थन में अभिनेत्री आलिया भट्ट ने भी लिखा है कि जो भी इस फ़िल्म के साथ हो रहा है वो ग़लत है.

इससे पहले फ़िल्म निर्माताओं के संघ की ओर से निर्माता निर्देशक मुकेश भट्ट ने भी बीबीसी से कहा था,"हम आगे पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने पर रोक लगा सकते हैं, लेकिन जिस फ़िल्म में एक हिन्दुस्तानी निर्माता का पैसा लग चुका है, आप आज के हालात के लिए, अपने ही नागरिक का नुकसान क्यों करवा रहे हैं."

कई सूत्रों से यह ख़बर भी आ रही है कि करण जौहर अपनी इस फ़िल्म की तारीख़ को आगे खिसका सकते हैं लेकिन करण की ओर से इस पर कोई पुष्टि नहीं हुई है और धर्मा प्रोडक्शन (करण जौहर की कंपनी) की ओर से बीबीसी को बताया गया,"हम दिवाली पर फिल्म की रिलीज़ की तैयारी ज़ोरो शोरों से कर रहे हैं और जल्द ही करण इस बारे में बात करेंगे."

अभी तक यह मामला सिर्फ़ करण जौहर और मुंबई के कुछ नेताओं और असोसिएशन के बीच था लेकिन अनुराग कश्यप ने इस मामले में प्रधानमंत्री को खींचने की कोशिश की है जिससे करण की मुश्किल बढ़ भी सकती है, दूर भी हो सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)