'शाहरुख़ संग रोमांस न कर पाने का अफ़सोस नहीं'

इमेज कॉपीरइट Everymedia PR

बॉलीवुड में रोमांस किंग के नाम से मशहूर शाहरुख़ ख़ान के साथ काम करके भी रोमांस का मौका ना मिले तो किसी को भी अफ़सोस होगा.

लेकिन आलिया भट्ट को कोई अफ़सोस नहीं है.

आलिया भट्ट 'डियर ज़िंदगी' में शाहरुख़ ख़ान के साथ अभिनय कर रही हैं.

आलिया कहती हैं, "इस फ़िल्म में न तो रोमांस का स्कोप था और ना ही उम्र में फ़ासले की वजह से टिपिकल लव स्टोरी बन सकती थी. लेकिन आगे मौक़ा मिला तो मैं शाहरुख़ के साथ रोमांस ज़रूर करना चाहूंगी."

गौरी शिंदे की निर्देशन में बनी 'डियर ज़िंदगी' में शाहरुख़ ख़ान, आलिया भट्ट के लाइफ़ कोच बने है.

इमेज कॉपीरइट Crispy Bollywood

निज़ी तौर पर शाहरुख़ की शख्सियत से प्रभावित आलिया कहती हैं कि, "शाहरुख़ ख़ान और उनके सोचने-समझने का तरीका बिल्कुल एक जैसा ही है. उन्हें फ़िल्म इंडस्ट्री में 25 साल हो गए हैं, पर आज भी वो शाहरुख़ ख़ान होने का बोझ नहीं उठाते. अपने सीमा से बाहर वे सह-कलाकार को कंफर्ट देते हैं. उनका यही स्वाभाव उन्हें सुपरस्टार बनाता है."

शाहरुख़ ख़ान से अपनी पहली मुलाक़ात का ज़िक्र करते हुए आलिया बताती हैं, "लगभग 11-12 साल की उम्र में मैं अपने पिता महेश भट्ट के कुछ करीबी दोस्तों के साथ शाहरुख़ के घर गई थी. वहां सैंडविच खाते-खाते जब नज़र शाहरुख़ पर पड़ी, तो बस देखती ही रह गई."

महेश भट्ट ने आलिया भट्ट को पूजा भट्ट से बेहतर अभिनेत्री बताया है.

इस बारे में आलिया कहती हैं, "मैं पूजा से बेहतर अभिनेत्री हो सकती हूं, पर उनके जैसी ख़ासियत मुझ में नहीं. वो आर्टिस्टिक हैं, निर्माता हैं और निर्देशक भी हैं, जो मैं कभी भी नहीं बन पाऊंगी. वो मुझसे दस गुना बेहतर हैं."

इमेज कॉपीरइट Parull Gossain pr

आलिया के मुताबिक वे आगे चलकर निर्माता ज़रूर बनना चाहेंगी.

गौरी शिंदे निर्देशित फ़िल्म 'डियर ज़िंदगी' 25 नवंबर को रिलीज़ हो रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे