रणवीर सिंह ने कहा- 'करण के शो पर जाना रिस्की है'

इमेज कॉपीरइट AFP

रणवीर सिंह अपने बिंदास अंदाज़ के लिए जाने जाते हैं. हाल में करण जौहर के टीवी शो "कॉफी विथ करन" में आए रणवीर कहते हैं कि 'निर्माता- निर्देशक करन जौहर पागल हैं.'

अपनी आगामी फ़िल्म "बेफ़िक्रे" के आने से पहले बीबीसी से बातचीत में रणवीर ने करण जौहर के बारे में कहा, " ये कॉफी विथ करण बड़ा रिस्की शो है. इसमें जाना डरने वाली बात है. मैं भी जाने से पहले डरा हुआ था."

पढ़ें- फिर कॉफ़ी पिला रहे हैं करणन

उन्होंने कहा, "करण को मना तो नहीं कर सकते और वो पागल हैं कुछ भी पूछ लेते हैं. आप जवाब नहीं भी देना चाहो तो भी कैमरा आपके रिएक्शन रिकॉर्ड कर लेता है. थोड़ा संभलकर जवाब देना पड़ता है, पर रणबीर कपूर के साथ मुझे मज़ा आया."

यशराज फ़िल्म के कर्ताधर्ता निर्माता-निर्देशक आदित्य चोपड़ा के निर्देशन में पहली बार काम कर रहे रणवीर सिंह को अफ़सोस है कि उन्हें रोमैंटिक सिनेमा के लिजेंड यश चोपड़ा के साथ काम करने का मौका नहीं मिला.

वो कहते हैं कि अगर मौका मिलता तो वो उनकी "काला पत्थर" या "दीवार" जैसी ड्रामा फ़िल्म का हिस्सा बनना पसंद करते.

इमेज कॉपीरइट STAR WORLD PR CONSULTANT

"बैंड बाजा बरात" से लेकर "बाजीराव मस्तानी" तक सफलता पा चुके रणवीर सिंह अपने आप को सफल नहीं मानते हैं.

रणवीर कहते हैं कि जितनी ज़्यादा सफलता मिलती है उतनी समस्या भी बढ़ती है और ज़िन्दगी उलझ कर रह जाती है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

स्टारडम के नफ़ा-नुक़सान पर रणवीर कहते हैं, "आपका ध्यान आपकी निजी ज़िन्दगी से हट जाता है. सेलिब्रिटी बनने के बाद मेरे क़रीबी लोगों की संख्या कम हुई है, मैं तनहा हो गया हूं. लेकिन 'बाजीराव मस्तानी' के बाद मैंने तय किया कि मैं अपने परिवार और दोस्तों के साथ वक़्त गुज़ारूंगा. अब मैं भारत में जाना जाता हूँ इसलिए यहाँ घूमना मुश्किल है. इसलिए आम ज़िन्दगी का लुत्फ़ उठाने के लिए मैं अक्सर विदेश जाता हूँ."

पेरिस में फिल्माई गई फ़िल्म "बेफ़िक्रे" में रणवीर सिंह अभिनेत्री वाणी कपूर के साथ रोमांस करते नज़र आएंगे. फ़िल्म नौ दिसंबर को रिलीज़ हो रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे