जब 'राज दरबार' में बॉलीवुड ने लगाई हाज़िरी

इमेज कॉपीरइट Hiten V

निर्माता निर्देशक करण जौहर के बाद अब अभिनेता शाहरुख़ ख़ान भी अपनी आगामी फ़िल्म 'रईस' को बिना किसी विरोध के रिलीज़ करवाने के लिए महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के सुप्रीमो राज ठाकरे से मिले.

पढ़ें: माहिरा पर सोशल मीडिया में बहस

शाहरुख़ की फ़िल्म 'रईस' में मुख्य अभिनेत्री का किरदार, पाकिस्तानी अदाकारा माहिरा ख़ान निभा रही हैं. शाहरुख़ नहीं चाहते कि जिस तरह महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने फ़िल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' का विरोध किया था, वैसे ही उनकी फ़िल्म का भी विरोध हो.

राज का दरवाज़ा खटखटाओ

इमेज कॉपीरइट Hiten V

हाल के दिनों में सीमा पर चरमपंथी हमलों के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने पाकिस्तानी कलाकारों और उनको लेकर बन रही फ़िल्मों का भारी विरोध शुरू किया था. और इसकी जद में आने वाली सबसे पहली फ़िल्म थी करण जौहर की 'ऐ दिल है मुश्किल' जिसमें एक नहीं दो-दो पाकिस्तानी कलाकार मौजूद थे.

रईस और दंगल पार कर पाएंगी नई खड़ी हुई दीवारें?

फ़िल्म 'ए दिल है मुश्किल' के साथ ही मनसे ने ऐलान किया था कि वो शाहरुख़ की फ़िल्म 'डियर ज़िंदगी' और उन्हीं की फ़िल्म 'रईस' को भी रिलीज़ नहीं होने देंगे क्योंकि इन दोनों ही फ़िल्मों में पाकिस्तानी कलाकार शामिल हैं.

करण बोले, देश सबसे पहले

इमेज कॉपीरइट GUDDU&SHANI

देशभक्ति बनाम कला के इस विवाद में बॉलीवुड भी दो फाड़ में नज़र आया था जहां एक ओर सलमान ख़ान, अनुराग कश्यप और स्वरा भास्कर जैसे बड़े फ़िल्मी नामों ने मनसे के इस विरोध को अलोकतांत्रिक माना था और खुल कर मनसे का विरोध किया था.

बीबीसी को दिए एक साक्षात्कार में अभिनेत्री स्वरा भास्करा ने कहा था, "जब सरकार किसी देश के साथ संबंध ख़त्म करने की घोषणा नहीं कर रही है तो फिर एक पार्टी विशेष के लोग कैसे किसी देश के कलाकारों को लेकर बनने वाली फ़िल्मों को रोक सकते हैं."

ए दिल है मुश्किल पर सुलह

इमेज कॉपीरइट Crispy Bollywood

अनुराग कश्यप ने तो इस मामले में ट्विटर के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी ज़िक्र किया था और बीबीसी को दिए एक जवाब में उन्होंने कहा था, "लोग यह बात नहीं समझ रहे कि सिर्फ़ एक कलाकार की वजह से वो कितने भारतीय लोगों का नुकसान कर रहे हैं, यह एक भारतीय निर्माता की फ़िल्म है और इसमें भारत का पैसा लगा है."

लेकिन दूसरी ओर अमिताभ बच्चन, मनोज वाजपेयी और गुलशन ग्रोवर जैसे कलाकारों ने उलझे हुए शब्दों में इस बैन को माना था.

अमिताभ बच्चन ने बीबीसी से कहा था, "हमारी सरकार, हमारी एसोसिएशन जो फ़ैसला लेंगी हम उसे मानेंगे. अगर वो कहेंगी कि हमें किसी कलाकार विशेष के साथ काम नहीं करना है तो हम उसके साथ काम नहीं करेंगे, फिर वो चाहे किसी भी देश से हों."

इमेज कॉपीरइट Excel Entertainment

करण की इस फ़िल्म को रिलीज़ करवाने के लिए फ़िल्म निर्माताओं की संस्था 'फ़िल्म प्रोड्यूसर्स गिल्ड' और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने मनसे और करण के बीच एक समझौता करवाया था.

इस समझौते के दौरान ही फ़िल्म प्रोड्यूसर्स गिल्ड ने राज ठाकरे की पार्टी से यह आश्वासन ले लिया था कि वो पाकिस्तानी कलाकारों वाली निर्माणाधीन बॉलीवुड फ़िल्म का विरोध नहीं करेंगे और इसके बदले में फ़िल्म निर्माता भी भविष्य में किसी पाकिस्तानी कलाकार के साथ काम नहीं करेंगे.

इसके अलावा राज ठाकरे ने करण जौहर को अपनी फ़िल्म की शुरुआत में न सिर्फ़ भारतीय सेना के शहीदों को श्रद्धांजली देने को कहा बल्कि उन्हें पांच करोड़ रुपए सेना के राहत कोष में डालने को भी कहा था.

पांच करोड़ रुपए के इस 'जबरन डोनेशन' की हर ओर निंदा हुई थी और सेना ने भी जबरन दी गई आर्थिक मदद को लेने से इनकार किया था लेकिन करण की ओर से यह पैसे सेना को दिया गया या नहीं इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हुई है.

इस सारी जद्दोजहद के बाद मनसे की ओर से पाकिस्तानी कलाकार वाली निर्माणाधीन या निर्मित हो चुकी फ़िल्मों का विरोध न करने का आश्वासन दे दिया गया था लेकिन सात दिसंबर को 'रईस' के ट्रेलर लांच के मौके पर इस फ़िल्म के सह निर्माता रितेश सिधवानी ने मीडिया से कह दिया कि माहिरा फ़िल्म का प्रमोशन करने भारत आएंगी.

रितेश सिधवानी के इस कथन के बाद से ही यह बात चर्चा में थी कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना, जिन्होंने फ़वाद ख़ान के कारण करण जौहर की फ़िल्म 'ए दिल है मुश्किल' का रिलीज़ होना मुश्किल कर दिया था, अब 'रईस' का भी विरोध करेंगे.

लेकिन राज ठाकरे के मुताबिक शाहरुख़ ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि माहिरा इस फ़िल्म के प्रमोशन के लिए भारत नहीं आएंगी और अक्तूबर में किए गए समझौते का पालन किया जाएगा. यानी फ़िल्म से पहले भारतीय सेना के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी जाएगी और भविष्य में किसी पाकिस्तानी कलाकार को काम नहीं दिया जाएगा.

लेकिन क्या शाहरुख़ ख़ान से पाँच करोड़ रुपए का 'डोनेशन' करवाया जाएगा? इस बात पर राज ठाकरे और शाहरुख़ में से किसी ने भी सफ़ाई नहीं दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे