बेंगलुरु में जो हुआ वो शर्मनाक था :आमिर

इमेज कॉपीरइट AFP

बेंगलुरू में लड़कियों के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना की बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान ने कड़ी निंदा की है.

मुम्बई में हुए एक इवेंट में आमिर ख़ान ने कहा "जो बेंगलोर में हुआ वो दुख की बात है. और ऐसा जब भी हमारे देश में होता है तो हमे शर्म आती है, बुरा लगता है."

तीन दिन बाद बेंगलुरू पुलिस को मिला 'विश्वसनीय सबूत'

फेसबुक लाइव पर देखिए बेंगलुरू की घटना पर लोगों की प्रतिक्रिया

महिलाओ के प्रति छेड़खानी के मामले पर आमिर ने कहा कि हर राज्य की सरकार को महिलाओ की सुरक्षा के लिए कदम उठाने हैं. इसके लिए सिर्फ एक बार किये प्रयत्न नहीं बल्कि लगातार कोशिश की जानी चाहिए.

इमेज कॉपीरइट Houture

डर पैदा हो !

अमरीका का उदाहरण देते हुए आमिर ने कहा कि 'जब अमरीका में ऐसी कोई घटना होती है तो दोषी को 2 से 3 महीने में कानूनी कार्रवाई के बाद सज़ा सुना दी जाती है.

अगर ऐसा भारत में होता है और न्यायपालिका इसपर सख्ती से काम करती है तो इसका असर यहाँ भी दिख सकता है.'

'छेड़छाड़ पर मंत्री बोले, ऐसा होता है'

'फुटेज में छेड़छाड़ करनेवालों की पहचान की कोशिश'

आमिर ख़ान का मानना है कि जब कानूनी परिस्थिति बदलेगी तभी लोगो में डर पैदा होगा और महिलाओ की सुरक्षा के लिए ये डर पैदा करना बहुत ज़रूरी है.

अबू आज़मी की टिपण्णी

बेंगलुरु में महिलाओ के साथ हुई छेड़छाड़ पर समाजवादी पार्टी के नेता अबू आज़मी ने कहा कि 'जितना स्किन शो करते हैं उतना ही खुद को फैशन से जोड़ते हैं' उनके इस कथन का ये मतलब भी निकाला गया कि महिलाओ के साथ हुई छेड़छाड़ में ग़लती महिलाओ की ही है.

अबू आज़मी के इस ब्यान पर बॉलीवुड ने उनके खिलाफ ट्विटर पर जंग छेड़ दी.

फ़िल्म पिंक से मशहूर हुई तापसी पन्नू ने ट्वीट में लिखा 'काश मैंने इन्हें पिंक दिखाई होती, या मैं अभी भी उनको अपनी फिल्म की टिकट भेज देती हूँ'

वहीँ वरुण धवन ने लिखा 'सर उन्हें सज़ा दीजिये जिन्होंने हरकत की है, महिलाओ को जो पहनना चाहिए वो उन्हें पहनने दीजिये, ये उनकी च्वाइस है'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)