'हिंदी फ़िल्मों में काम करती हूं पर हिंदी ख़राब है'

इमेज कॉपीरइट Hype PR

हिंदी फ़िल्मों में काम करने वाले कई कलाकारों को हिंदी भाषा में बात करने में दिक्कत आती है और वो अधिकतर अंग्रेजी भाषा का इस्तेमाल करते हैं.

'आशिक़ी-2' से बॉलीवुड में अपना सिक्का जमाने वाली श्रद्धा कपूर का मानना है कि उनकी हिंदी कमज़ोर है.

इमेज कॉपीरइट Shraddha Kapoor FB

बीबीसी से रूबरू हुई श्रद्धा कपूर ने अपनी कमज़ोर हिंदी पर बात करते हुए कहा, "मैं हिंदी अभिनेत्री हूँ और मेरी हिंदी कमज़ोर है. बच्चन साहब क्या कमाल हिंदी बोलते हैं. खैर! उनका तो मुकाम ही अलग है. काश मैं भी बेहतर हिंदी बोल पाती."

मैं खलनायिका बनने को तैयार हूँ: श्रद्धा कपूर

आदित्य और मेरी दोस्ती अटूट: श्रद्धा कपूर

श्रद्धा कपूर एक बार फिर अभिनेता आदित्य रॉय कपूर के संग रोमांस करती नज़र आएगी फ़िल्म 'ओके जानू' में.

'ओके जानू' मणि रत्नम की तमिल फ़िल्म "ओ कादल कनमणी" की हिंदी रीमेक है. श्रद्धा और आदित्य की जोड़ी को 'आशिक़ी-2' में बहुत पसंद किया गया था.

इमेज कॉपीरइट Hype PR

श्रद्धा आगे कहती हैं कि, "शाहरुख़ ख़ान और काजोल, वहीदा रहमान जी और गुरु दत्त जी की तरह आदित्य और मेरी जोड़ी को भी दर्शकों ने प्यार दिया जिससे ओके जानू से उम्मीदें बढ़ गई हैं."

'ओके जानू' दो युवाओं की कहानी है जो शादी के बंधन में नहीं बंधना चाहते और लिव इन रिलेशनशिप चाहते हैं. फ़िल्म में श्रद्धा का किरदार तारा काफी बेबाक है.

श्रद्धा कपूर का मानना है कि असल ज़िंदगी में लड़कियां ऐसे बेबाक फ़ैसले लेने से कतराती हैं क्योंकि उन्हें डर होता है कि लोग क्या सोचेंगे या क्या कहेंगे.

बेंगलुरू में नए साल के जश्न के मौक़े पर कई महिलाओं के साथ हुई कथित छेड़छाड़ की घटना से दुखी श्रद्धा का कहना है कि गुनाहगारों के ख़िलाफ़ कड़ा एक्शन लिया जाना चाहिए."

इमेज कॉपीरइट Hype PR

शाद अली निर्देशित 'ओके जानू' 13 जनवरी को रिलीज़ होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे