लीड हीरो न बनने का मलाल नहीं चंकी पांडे को

चंकी पांडे, फ़िल्म अभिनेता इमेज कॉपीरइट H1 Media PR
Image caption फ़िल्म 'बेग़म जान' में खलनायक की भूमिका से चंकी पांडे को काफ़ी उम्मीदें हैं

आज अधिकतर लोग चंकी पांडे को भूल गए होंगे. पर वो बॉलीवुड के एक्शन हीरो अक्षय कुमार के सीनियर रह चुके हैं.

चंकी पांडे अक्षय कुमार के साथ डांस क्लास में थे. उन्होंने अक्षय को डांस सिखाया. पर ख़ुद उन्हें फ़िल्मों में कोई लीड रोल नहीं मिल सका.

'बेगम जान की गालियां रोल के लिए तड़का'

अक्षय कुमार की फ़िल्म फ़्लॉप नहीं होती?

गर्भवती होने की एक्टिंग कर सीट लेती थीं विद्या बालन

बीबीसी से बात करते हुए चंकी पांडे कहते हैं कि उन्हें इसका कोई मलाल नहीं है.

उन्होंने कहा, "आज की तारीख़ में पांच साल का बच्चा मुझे आखरी पास्ता के नाम से पहचानता है, उसकी माँ मुझे मेरी पुरानी फ़िल्मों से पहचानती है. यह भगवान् का तोहफ़ा है कि मुझे दो-तीन पीढियों के लोग पहचानते हैं."

Image caption अक्षय कुमार के सीनिय़र थे चंकी पांडे

अस्सी के दशक में फ़िल्मों में एंट्री के लिए संघर्ष करने वाले चंकी पांडे को निर्माता पहलाज निहलानी ने 1987 में धर्मेंद्र और शत्रुघन सिन्हा की फ़िल्म 'आग ही आग' में मौका दिया था.

पहलाज निहलानी से पहली अनोखी मुलाक़ात का ज़िक्र करते हुए चंकी पांडे ने कहा कि वे एक शादी में नाड़े वाला कुर्ता पजामा पहने पंहुचे. वहां शराब पीने के बाद जब वे शौचालय गए तो उनसे पाजामे का नाड़ा नहीं खुल रहा था.

निहलानी ने चंकी पांडे की मदद की. वहीं बातों बातों में ही अगली फ़िल्म में अभिनय करने का प्रस्ताव भी दिया. इस तरह उनके अभिनय की गाड़ी चल पड़ी.

इमेज कॉपीरइट H1 Media PR

फ़िल्मों में हीरो के भाई और दोस्त का किरदार निभाते आए चंकी पांडे अब हास्य किरदारों में ही नज़र आते है. 'बेग़म जान' में उन्हें नकारात्मक भूमिका निभाने का मौक़ा मिला.

वे इस किरदार को अपने अभिनय का पड़ाव मानते है.

राष्ट्रीय अवॉर्ड विजेता बंगाली निर्देशक श्रीजीत मुख़र्जी निर्देशित बेगम जान में चंकी पांडेय के साथ विद्या बालन हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे