जहाँ रिलीज़ से पहले राज कपूर करते थे हवन

  • 29 मार्च 2017
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
31 मार्च को रीगल आखिरी फ़िल्म शो दिखाएगा

मल्टीप्लेक्स के आने से दिल्ली के सभी सिंगल स्क्रीन सिनेमा एक-एक कर बंद हो रहे हैं.

84 साल पुराना दिल्ली का ऐतिहासिक 'रीगल सिनेमा' अब इस कड़ी में नया नाम है. 31 मार्च को इसकी टिकट खिड़की आखिरी बार खुलेगी और फिर हमेशा के लिए बंद हो जाएगी.

इमेज कॉपीरइट Regal Cinema

रीगल ने आम से लेकर खास तक जाने कितने लोगों का मनोरंजन किया है. पंडित जवाहर लाल नेहरू से लेकर लॉर्ड माउंटबेटन तक और न जाने कितनी फिल्मी हस्तियां इसकी चकाचोंध से रूबरू हुई होंगी.

राज कपूर तो 'रीगल' को अपना लकी थिएटर मानते थे.

सिनेमा हॉल के अकाउंट मैनेजर एएस वर्मा पिछले 40 साल से रीगल से जुड़े हैं. वो बताते हैं, "राज कपूर की ज्यादातर फ़िल्मों का प्रीमियर यहीं होता था. पूरे परिवार के साथ राज कपूर सिनेमा हॉल में फ़िल्म रिलीज़ से पहले हवन किया करते थे. वो रीगल को शुभ मानते थे. पूरे सिनेमा हॉल को फूलों से सजाया जाता था. फ़िल्म जब लगती थी तो दस-दस दिन की एडवांस बुकिंग रहती थी."

इमेज कॉपीरइट Regal Cinema
Image caption रीगल सिनेमा

दिल्ली के कनॉट प्लेस में रीगल सिनेमा एक लैंडमार्क रहा है. यहाँ आज़ादी से पहले अंग्रेजी और रूसी थिएटर परफॉर्म किए जाते थे. बाद में इसे सिनेमा हॉल में बदल दिया गया.

660 सीटों वाले रीगल में उस ज़माने में 800 से ज्यादा लोग बैठ सकते थे. रोज़ाना चार शो चलाने वाले रीगल सिनेमा को अब जल्द एक चार स्क्रीन वाले मल्टीप्लेक्स की शक्ल दिए जाने की बात हो रही है.

इमेज कॉपीरइट Regal cinema
Image caption रीगल सिनेमा

सिनेमा हॉल की हालत खस्ता है. कहीं प्लास्टर निकल रहा है तो कहीं पानी की लीकेज है. दीवारों पर सीलन है और हॉल की सीटें बैठने लायक नहीं रह गई हैं. पंखों की 'घनघोर' आवाज़ में स्क्रीन पर चल रहे डायलॉग कहीं गुम हो जाते हैं और परदे पर चल रही नई प्रिंट वाले फ़िल्म भी धुंधले लगते हैं.

रीगल में आजकल अनुष्का शर्मा की फ़िल्म 'फिल्लौरी' दिखाई जा रही है. देखने वालों की तादाद कम है. कई लोग सिर्फ इसीलिए रीगल में फ़िल्म देखने जा रहें हैं क्योकि उनकी इस सिनेमाघर से कई यादें जुडी हैं.

1932 में बना रीगल सिनेमा हॉल अब दिल्ली को अलविदा कहने जा रहा है.

अपने भविष्य को लेकर चिंतित, लेकिन चेहरे पर मुस्कान लिए रीगल सिनेमा का स्टाफ रीगल के इस सफर का आखिरी सलाम राज कपूर को श्रधांजलि दे कर है.

31 मार्च को सिनेमा हॉल में पूरे दिन राज कपूर कि फ़िल्मो शो रखे जाने का प्लान किया जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)