आवाज़ की ईश्वरीय खनक: हेमन्त कुमार
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

हेमन्त कुमार: रवींद्र संगीत का 'साहिब'

  • 16 अप्रैल 2017

हेमन्त कुमार मुखोपाध्याय के एक सफल संगीतकार बनने से पहले यह कौन जानता था कि वे जवानी के दिनों में तमाम रेकॉर्ड कम्पनियों द्वारा ऑडिशन में ठुकरा दिए गए थे.

इस निराशा को मिटाने के लिए बांग्ला भाषा की मशहूर पत्रिका 'देश' में उन्होंने कहानियाँ लिखनी शुरू कर दी थी.

मिलते-जुलते मुद्दे