अवॉर्ड वापस लेना है तो ले लो: अक्षय कुमार

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
अक्षय ने कहा, '26 साल बाद मिला नेशनल अवॉर्ड , यह भी रखना है तो रख लो.'

फ़िल्म 'रुस्तम' के लिए नेशनल अवॉर्ड पाने वाले अभिनेता अक्षय कुमार ने मुंबई में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "मेरा अवॉर्ड वापस लेना है तो ले लो."

अक्षय को ये अवॉर्ड मिलने के बाद विवाद पैदा हो गया था और कई लोगों ने कहा था कि अक्षय इस अवॉर्ड के हक़दार नहीं थे.

'अक्षय को नेशनल नहीं नेशनलिज्म अवॉर्ड मिला'

तो सिर्फ़ रुस्तम ने नहीं दिलाया अक्षय को अवॉर्ड

सोशल मीडिया पर भी इसकी ख़ूब चर्चा हुई और लोगों की प्रतिक्रिया थी कि अक्षय को सत्ताधारी भाजपा से नज़दीकी का इनाम मिला.

इमेज कॉपीरइट EPA

अक्षय ने पहली बार इस मसले पर खुलकर बोलते हुए कहा, "मैं 25 सालों से देख रहा हूं जब भी किसी को अवॉर्ड मिलता है तो चर्चा शुरू हो जाती है. कोई ना कोई विवाद शुरू हो जाता है. मुझे 26 साल बाद ये अवॉर्ड मिला है, वो भी मन करे तो वापस ले लो."

अक्षय कुमार ने कहा कि अपने करियर के शुरुआती दौर में उन्होंने सिर्फ़ एक्शन फ़िल्में ही कीं.

इमेज कॉपीरइट Neeraj Pandey

वो बोले, "पहले 10 साल मैंने सिर्फ़ एक्शन फ़िल्में कीं. जिन फ़िल्मों में एक्टिंग की ज़रूरत होती उनमें मुझे कोई नहीं लेता. लेकिन आज मैं जिस मुक़ाम पर हूं मुझे वहां तक एक्शन ने ही पहुंचाया."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे