सीरिया: रिफ्यूज़ी कैंप के बाहर हमला, 30 मौतें

  • 2 मई 2017
इमेज कॉपीरइट AFP

इराक़ के साथ लगी सीरिया की उत्तर-पूर्वी सीमा पर इस्लामिक स्टेट संगठन ने हमला किया है जिसमें 30 से ज़्यादा नागरिक और लड़ाके मारे गए हैं. ये लड़ाके कुर्दों की अगुआई में लड़ रहे थे.

सीरिया : राष्ट्रपति असद का इंटरव्यू

आईएस ने विस्थापित सीरियाई और इराक़ी शरणार्थियों के लिए बने अस्थाई शिविर पर हमला किया.

आईएस लड़ाकों की पास के नाके पर तैनात सीरियन डेमोक्रेटिक फ़ोर्स के सदस्यों से भी झड़प हुई.

अमरीका के समर्थन वाला ये गठबंधन पूर्वी सीरिया में आईएस के खिलाफ़ लड़ रहा है.

नागरिकों की मौत

ब्रिटेन की मॉन्टिरिंग संस्था द सीरियन ऑबज़रवेटरी के मुताबिक कम से कम पाँच आत्मघाती हमलावरों ने मंगलवार को कैंप के बाहर ख़ुद को उड़ा दिया.

संस्था के मुताबिक हमलों और उसके बाद हुई झड़पों में 32 लोग मारे गए. जबकि सीरिया की सरकारी एजेंसी के मुताबिक 30 से ज़्यादा नागिरक मारे गए हैं और 34 घायल हुए हैं. एजेंसी ने ये नहीं कहा कि क्या आत्मघाती हमले हुए थे या नहीं.

इसके कुर्द और अरब लड़ाके सामरिक रूप से अहम तबक़ा कस्बे पर कब्ज़े के करीब हैं और जल्द ही रक्का पर हमले की तैयारी कर रहे हैं जिसे आईएस की राजधानी माना जाता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

.

मिलते-जुलते मुद्दे