रीमा लागू: नहीं रहीं बॉलीवुड की मॉडर्न मां

रीमा लागू इमेज कॉपीरइट Hum Sath Sath hain Movie

बॉलीवुड में हंसती-मुस्कुराती खुशमिज़ाज मां के किरदारों से लोकप्रिय हुई अभिनेत्री रीमा लागू नहीं रहीं. 59 साल की उम्र में उनका निधन हो गया.

उन्हें सीने में दर्द की शिकायत के बाद मुंबई के कोकिला बेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में दाखिल कराया गया था. रात के एक बजे उनकी मौत हो गई.

उनके दामाद विनय वायकुल ने स्थानीय पत्रकार सुप्रिया सोगले को इसकी जानकारी दी.

वे मराठी और हिंदी फिल्मों का जाना-पहचाना चेहरा थीं. टेलीविज़न की दुनिया में भी वो ख़ासी लोकप्रिय थीं. उन्होंने कई सीरियलों में काम किया.

मराठी रंगमंच पर दशकों तक वो सक्रिय रहीं और बॉलीवुड की ममतामयी ग्लैमरस मदर के तौर पर जानी गईं.

इमेज कॉपीरइट Colors PR

उन्होंने 'मैंने प्यार किया', 'आशिक़ी', 'साजन', 'हम आपके हैं कौन', 'वास्तव' और 'हम साथ-साथ हैं' जैसी यादगार फ़िल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाया था.

'हम साथ-साथ हैं' में उनकी भूमिका कैकेयी से प्रेरित थी फिर भी उन्होंने लोगों का दिल जीत लिया. 'वास्तव' में उन्होंने 'मदर इंडिया' की नरगिस की यादें ताज़ा करा दी थीं.

म्यूज़िकल रोमांटिक फ़िल्म 'मैंने प्यार किया' के लिए उन्हें 1990 में सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए फ़िल्मफ़ेयर अवॉर्ड का नोमिनेशन मिला.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
उनके आने से पहले बॉलीवुड में मां के रोल्स की अलग छवि थी. रीमा लागू ने नई लकीर खींच दी थी.

इसके अलावा 'आशिक़ी', 'हम आपके हैं कौन' और 'वास्तव' के लिए भी उन्हें नोमिनेट किया गया था. उनका फ़िल्मी करियर श्याम बेनेगल की फ़िल्म 'कलयुग' से शुरू हुआ था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे