रणबीर कपूर एक बुरे निर्माता: कटरीना कैफ़

इमेज कॉपीरइट Spice PR

रणबीर कपूर की पूर्व प्रेमिका कटरीना कैफ का मानना है कि रणबीर उनके जिगरी दोस्त हैं पर बतौर निर्माता वो बहुत बुरे है.

फ़िल्म जग्गा जासूस से रणबीर कपूर निर्माता भी बनने जा रहे है. साढ़े तीन साल से बन रही फ़िल्म जग्गा जासूस के निर्माण में कई दिक्कतें आईं जिससे फ़िल्म की रिलीज़ डेट तीन बार बदली गई.

संजय दत्त पर बायोपिक छवि सुधारने के लिए नहीं-रणबीर कपूर

अजय देवगन ने नहीं होने दी मेरी शादी: तब्बू

जब कटरीना कैफ़ से पूछा गया कि रणबीर बेहतर निर्माता है या दोस्त?

तो कटरीना ने जवाब में कहा,"बतौर निर्माता मुझे नहीं लगता रणबीर ने कुछ किया है. डिज़्नी ने बहुत बेहतरीन काम क्या है और सच कहूं तो ये दादा (अनुराग बासु) की रचना है. हम सेट पर आते थे एक स्पर्धा की भावना लेकर जिसे मीडिया ने बहुत ही ग़लत तरीके से देखा. बतौर निर्माता रणबीर कतई अच्छे नहीं है. वो मेरा ख़ास दोस्त है."

इमेज कॉपीरइट Spice PR

रणबीर ने भी कटरीना की बात में हामी भरते हुए कहा कि वो फिल्म में सिर्फ नाम के निर्माता है क्योंकि वो बहुत ही आलसी है.

'अजब प्रेम की ग़ज़ब कहानी' और 'राजनीति' फ़िल्म से रणबीर कपूर और कटरीना कैफ का प्रेम परवान चढ़ा. पाँच साल चले दोनों के प्रेम प्रसंग में 2016 की शुरुआत में दरार आ गई और ब्रेक अप हो गया.

हालांकि दोनों कलाकारों ने अपने प्रेम प्रसंग के टूट जाने पर चुप्पी रखी. ऐसी खबरें भी थी की दोनों के ब्रेक अप के कारण फ़िल्म "जग्गा जासूस" के निर्माण में देरी हुई.

इमेज कॉपीरइट Spice PR

रणबीर कपूर को फ़िल्म जग्गा जासूस पर भरोसा है पर उन्हें ये यकीन नहीं है कि बॉक्स ऑफिस पर फ़िल्म चलेगी या नहीं.

रणबीर ने कहा,"जब मैंने रॉकेट सिंह फ़िल्म की थी तो मुझे लगा था कि मैंने मुन्ना भाई बनाई है पर फ़िल्म नहीं चली."

इमेज कॉपीरइट Spice PR

वहीं रणबीर कपूर की फ़िल्म रॉकेट सिंह के बारे में कटरीना कैफ ने कहा,"जब मैंने रॉकेट सिंह देखी तो मैंने रणबीर को फ़ोन करके कहा कि ये फ़िल्म नहीं चलेगी. बहुत बोरियत है. बतौर अभिनेता हमें फ़िल्म बनाने की प्रक्रिया पर ध्यान देना चाहिए ना कि उसके नतीजे पर क्योंकि उस पर हमारा कोई वश नहीं होता."

अनुराग बासु निर्देशित 'जग्गा जासूस' 14 जुलाई को रिलीज़ होने वाली है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे