फ़िल्मी सितारें जिन्होंने किरदार के लिए ख़ुद को बदला

फ़िल्मी सितारों का वजन इमेज कॉपीरइट Twitter/@RajkummarRao

राजकुमार राव उन बॉलीवुड सितारों में शुमार होते हैं जिनके बारे में मशहूर है कि वे अपने कैरेक्टर्स में जान डालने के लिए हद से गुज़र जाते हैं.

'ट्रैप्ड' में अपने रोल के लिए उन्होंने आठ किलो वज़न कम किया था और अब 'नेताजी सुभाष चंद्र बोस' पर बन रही वेब सिरीज के लिए राव ने 11 किलो वजन बढ़ाया है.

सोशल मीडिया पर जारी कई राजकुमार राव की तस्वीरें वायरल हो रही हैं. लेकिन इस फेहरिस्त में राजकुमार राव अकेले नहीं हैं.

जब अपने कैरेक्टर्स को जीवंत बनाने की बात आती है तो अतीत में कई सिने कलाकारों ने रोल की ज़रूरत के मुताबिक़ वज़न बढ़ाया या कम किया.

इस लिस्ट में कुछ हॉलीवुड से हैं तो कुछ बॉलीवुड से.

कैमरे के सामने रोने में शाहरुख़ ने की मदद

पेरिस फ़ैशन वीक में 'दुल्हन' सोनम

इमेज कॉपीरइट SPICE PR

आमिर ख़ान

बात वेट गेन करने वाले फ़िल्मी सितारों की हुई है तो आमिर ख़ान का नाम राजकुमार राव से पहले लिया जाएगा.

दुनिया भर के बॉक्स ऑफिस पर झंडा गाड़ने वाली 'दंगल' में आमिर ख़ान का किरदार एक पहलवान का था.

आमिर यूं ही बॉलीवुड में 'मिस्टर पर्फेक्शनलिस्ट' नहीं कहे जाते. 'दंगल' के रोल के लिए उन्होंने 25 किलो वेट गेन किया था.

उनकी गंभीरता का अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते हैं कि एक समय में आमिर का वज़न 97 किलो तक पहुंच गया था.

इस भी चौंकाने वाली बात ये थी कि इसी फ़िल्म में महावीर सिंह फोगाट की युवावस्था का रोल करने के लिए आमिर ने 25 हफ्तों में 25 किलो वज़न कम भी किया था.

इसराइल में नरेंद्र मोदी का स्वागत करेगी ये लड़की

बॉलीवुड हिट्स रिटर्न, इन भोजपुरिया पैटर्न

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टॉम हैंक्स

बात वज़न कम करने की हो या फिर वेट गेन करने की, हॉलीवुड एक्टर टॉम हैंक्स इस कला के चैम्पियन माने जाते हैं.

कहा जाता है कि 'कास्ट अवे' में अपने रोल के लिए टॉम हैंक्स ने 24 किलो वज़न कम किया था. इस फ़िल्म में उनके रोल के दो शेड्स थे.

पहला एक तोंद वाले सिस्टम इंजिनियर का था और दूसरा प्लेन क्रैश में बच गए एक ऐसे व्यक्ति का जो एक निर्जन द्वीप पर जीवन के लिए चार सालों तक संघर्ष करता है.

'कास्ट अवे' चार साल के इसी सफ़र और संघर्ष की यात्रा की कहानी है. वज़न बढ़ाने के लिए हैंक्स ने ज़्यादा से ज़्यादा फल, केकड़े, नारियल, कोकोनट मिल्क लिया.

एक वक़्त ऐसा भी आया जब इस रोल के लिए टॉम हैंक्स के 'फूड प्लान' को 'कास्ट अवे डायट चार्ट' करार दे दिया गया.

फ़िल्म की शूटिंग के पहले दो सप्ताह के दौरान हैंक्स मज़ाक में कहा करते थे कि जो खाना उन्हें दिया जा रहा है, वो उनकी एक हथेली में समा जाएगा.

दूसरी बार टॉम हैंक्स ने एक और सीरियस रोल के लिए वज़न कम किया. 'फिलाडेल्फिया' में एक एड्स रोगी के रोल के लिए हैंक्स ने 11 किलो वज़न कम किया था.

'तेरह की उम्र में लगा, अंदर कुछ लड़की जैसा है'

'मुझे मेरी बायोपिक में कोई दिलचस्पी नहीं'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चार्लीज़ थेरोन

चार्लीज थेरोन ने 'मॉन्स्टर' में अपने रोल के लिए 13.5 किलो वज़न बढ़ाया था. इस फ़िल्म उनका रोल हकीकत की दुनिया के एक सीरियल किलर ऐलीन वुर्नोस का था.

थेरोन ने वेट गेन करने के लिए पोटैटो चिप्स और डोनट्स ख़ूब खाए. वो 30 पाउंड वेट गेन करना चाहती थीं ताकि वे वुर्नोस के क़रीब दिख सकें.

इस जानदार रोल के लिए थेरोन को ऑस्कर तक मिला. लेकिन ये पहला मौक़ा नहीं था जब उन्होंने किसी रोल के लिए अपने शरीर के साथ ऐसा प्रयोग किया था.

'स्वीट नवंबर' में मरती हुई महिला के रोल के लिए थेरोन ने कई किलो वज़न कम किए थे.

अजय देवगन ने नहीं होने दी मेरी शादी: तब्बू

किसने काजोल से झूठ बोला?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रॉबर्ट डी नीरो

हक़ीकत की दुनिया के किसी शख्सियत के रोल में जान डालने के लिए रॉबर्ट डी नीरो भी बेहद मशहूर रहे हैं.

रेजिंग बुल में उम्रदराज़ हो रहे बॉक्सर जेक ला मोट्टा के रोल के लिए नीरो ने 27 किलो वज़न बढ़ाया था.

इतना ही नहीं, इस रोल के लिए नीरो ने बाइसेप्स भी बनाए और बॉक्सिंग लेजेंड से ख़ुद ट्रेनिंग भी ली. उन्होंने बॉक्सिंग मैचों में हिस्सा भी लिया.

और ये सब कुछ इतना आसान नहीं था. वज़न बढ़ने का असर नीरो पर दिखने लगा, उन्हें रैशेज की समस्या हुई और सांस लेने में तकलीफ़ होने लगी थी.

लेकिन आख़िर में उनकी मेहनत रंग लाई. उन्हें गोल्डन ग्लोब से नवाज़ा गया और थेरोन की तरह उनकी झोली में ऑस्कर भी आया.

फ़वाद ख़ान को 'ज़िंदगी' देने वाला 'ज़िंदगी' अब ख़त्म

'स्टारडम के अलावा कुछ भी दे सकता हूं'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रणदीप हुडा

रिकॉर्ड समय में वज़न कम करने वाले कलाकारों में रणदीप हुडा का भी नाम आता है. सरबजीत में अपने रोल के लिए उन्होंने 28 दिनों में 18 किलो वज़न कम किया था.

भूखे रहने वाले उनके डायट चार्ट पर डॉक्टरों और उनके घरवालों की कड़ी नजर थी.

फिल्म के निर्देशक उमंग कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा, "पहली मुलाक़ात में मैंने रणदीप से कहा था कि मैं उनकी हड्डियां देखना चाहता हूं. उन्होंने इसे चुनौती के रूप में लिया और यहां तक कि मुझे भी चौंका दिया."

किस्सा इलेक्ट्रॉनिक म्यूज़िक की गॉड मदर का

चीन में इतनी क्यों चली आमिर ख़ान की दंगल?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे