श्रीदेवी: हिंदी फिल्मों की कम बैक क्वीन?

श्रीदेवी इमेज कॉपीरइट Getty Images

2017 में 90 के दशक की मशहूर हीरोइन्स फ़िल्मों में कम बैक कर रही हैं. किसी की कम बैक रही बॉक्स ऑफ़िस पर शानदार तो किसी की फ़िल्म का हुआ बुरा हाल. एक नज़र.

इस साल जिन अभिनेत्रियों ने कम बैक किया वो हैं रवीना टंडन और मनीषा कोइराला. मनीषा कोइराला जहां नज़र आईं फ़िल्म 'डियर माया' में तो रवीना टंडन नज़र आईं फ़िल्म 'मातृ' और 'शब' में.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
श्रीदेवी की 300वीं फ़िल्म माँ के रिलीज़ श्रीदेवी से ख़ास बातचीत

श्री देवी

बेशक जब श्री देवी ने अपने करियर पर 90 के दशक में ब्रेक लगाई तब उनकी फ़िल्में नहीं चल रही थीं. लेकिन ब्रेक के बाद जब वो आईं तो उनकी धमाकेदार वापसी हुई. चाहे वो 1997 की 'जुदाई' हो, 'इंग्लिश विंग्लिश' हो या इस महीने रिलीज़ हुई 'मॉम' हो. श्रीदेवी ने फ़िल्मों में लंबी पारी खेली है और 'मॉम' उनकी 300वीं फ़िल्म है.

हम झाड़ियों के पीछे कपड़े बदला करते थे: श्रीदेवी

इमेज कॉपीरइट Sandeep leyzell

माधुरी दीक्षित

1997 की 'दिल तो पागल है' के बाद माधुरी दीक्षित की फ़िल्में बॉक्स ऑफ़िस पर कुछ ख़ास कमाल नहीं दिखा रहीं थीं. इसके बाद 1999 में उन्होंने शादी कर ली. शादी के बाद वो बड़े परदे पर आईं 2002 की फ़िल्म 'देवदास' में. देवदास कामयाब रही. फिर लंबे अंतराल के बाद उनकी फ़िल्म आई 2007 में 'आ जा नच ले'.

वो कोई ख़ास कमाल नहीं दिखा पाई, ना ही 2014 की 'डेढ़ इश्क़िया' और 'गुलाब गैंग'.

25 साल की हुई 'धक-धक' गर्ल

इमेज कॉपीरइट vishal bhardwaj

काजोल

काजोल ने शादी की 1999 में. उसके बाद वो नज़र आईं 'कभी खुशी कभी गम', 'माई नेम इस ख़ान' और 'फ़ना ' में. ये सारी बॉक्स ऑफ़िस पर कामयाब रहीं.

लेकिन एक कम बैक फ़िल्म उतना कमाल नहीं दिखा पाई. इस फ़िल्म में उनके साथ वो हीरो थे जिनके साथ इन्होंने कई हिट फ़िल्में बनाईं यानी शाहरुख़ ख़ान.

ये फ़िल्म है 'दिलवाले' जो वैसा जादू नहीं कर बिखेर सकी जो 'करण अर्जुन', 'माई नेम इज़ ख़ान', 'कुछ कुछ होता है' ने किया था.

किसने काजोल से झूठ बोला

इमेज कॉपीरइट karan johar

ऐश्वर्या राय बच्चन

2010 की 'ऐक्शन रिप्ले' और 'गुज़ारिश' के बाद वो नज़र आईं 'जज़्बा' में. फ़िल्म को मिलीजुली प्रतिकिया मिली.

ऐश्वर्या के कान फ़िल्म फेस्टिवल के 15 साल

फ़िल्म हिट हो या फ्लॉप, इससे इन सब अभिनेत्रियों के अभिनय पर कोई सवाल नहीं उठता है.

इमेज कॉपीरइट G.P. Sippy

डिंपल कपाड़िया

1973 की फ़िल्म 'बॉबी' और राजेश खन्ना से शादी के बाद डिंपल कपाड़िया ने वापसी की फ़िल्म 'सागर' के साथ. इसके लिए इन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फ़िल्म फ़ेयर पुरस्कार मिला .

जब डिंपल ने लड़के का कॉलर पकड़ा

बेशक इन सभी अभिनेत्रियों की फ़िल्मों ने बॉक्स ऑफ़िस पर कोई ज़्यादा कमाई ना की हो, लेकिन इनके अभिनय को सराहा गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे