सिंगल डाउन से टॉप पर पहुंचे जे शॉन

जे शॉन और लिल वेन
Image caption जे शॉ़न अमरीकी म्यूज़िक चार्ट्स में नम्बर वन पर पहुंचने वाले भारतीय मूल के पहले गायक हैं.

जे शॉन अमरीकी म्यूज़िक चार्ट्स में नम्बर वन पर पहुंचने वाले भारतीय मूल के पहले गायक बन गये हैं.

ये उप्लब्धि उन्होंने अपने सिंगल ‘ डाउन’ से पाई है जो उनकी आने वाली एल्बम ऑल ऑर नथिंग का हिस्सा है.

पिछले छब्बीस हफ्तों से यू एस बिलबोर्ड हॉट 100 में ब्लैक आईड पीज़ ग्रुप के गाने पहले स्थान पर थे जो एक रिकॉर्ड था. जे शॉन के सिंगल ने इस ग्रुप को शीर्ष से हटा दिया.

अट्ठाइस वर्षीय जे शॉन भारतीय मूल के ब्रिटिश रैपर हैं.उनका असली नाम कमलजीत सिंह झूटी है और उनका जन्म लंडन में हुआ था. बारह साल की उम्र में ही रैप गायकी शुरु करने वाले जे हालांकि युनिवर्सिटी में मेडिसिन की पढ़ाई कर रहे थे लेकिन 2004 में उन्होंने पढ़ाई बीच में छोड़कर पूरी तरह संगीत पर ध्यान देने का निश्चय कर लिया.

अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए जे शॉन ने बीबीसी को बताया कि अमरीकी म्यूज़िक चार्ट्स के शीर्ष पर पहुंचना आसान नहीं है और ऐसा मौका रोज़ नहीं मिलता.

शॉन ने कहा, ‘ मैडोना जैसे मशहूर गायक भी नम्बर दो पर ही पहुंच पाये हैं. जिन गायकों को मैं पसंद करता हूं और जिनकी मैं इज़्ज़त करता हूं, उनकी श्रेणी में शामिल होना बहुत बड़ी बात है.’

जे के मैनेजर रे स्टीवर्ट का कहना है कि जे की सफलता सात साल की कड़ी मेहनत का नतीजा है. वहीं जे शॉन का कहना है कि उनके माता-पिता उनकी सफलता के बारे में गर्व तो महसूस करते हैं लेकिन उन्हें इसके में ज़्यादा नहीं पता है.

वैसे जे शॉन बॉलीवुड से भी जुड़े हैं. वो 2005 में तुषार कपूर और रितेश देशमुख की फिल्म क्या कूल हैं हम में नज़र आये थे. इस फिल्म में उनका गाना दिल मेरा भी था.

संबंधित समाचार