भारत में गूंजे 'स्ट्रिंग्स'

'स्ट्रिंग्स' के फ़ैसल कपाड़िया
Image caption पाकिस्तानी बैंड 'स्ट्रिंग्स' भारत में बहुत लोकप्रिय है

पाकिस्तानी पॉप बैंड 'स्ट्रिंग्स' भारत में भी बहुत लोकप्रिय है और यही वजह है कि न सिर्फ़ वो समय-समय पर भारत में संगीतमय क्रार्यक्रम करते रहते हैं बल्कि उन्होंने बॉलीवुड फ़िल्मों के लिए भी काम किया है.

अपनी इसी लोकप्रियता को भुनाने के लिए 'स्ट्रिंग्स' आजकल फिर भारत में हैं और कई शहरों में संगीतमय कार्यक्रम कर रहे हैं.

'स्ट्रिंग्स' के मुख्य गायक फै़सल कपाड़िया कहते हैं कि भारत में उनके कई प्रशंसक हैं और वो जब भी भारत आते हैं उनको ज़ोरदार स्वागत मिलता है.

उनका कहना था, "हिंदी और उर्दू गानों के लिए भारत में बहुत विशाल मार्केट है. इसके अलावा भारत में लोग अच्छे संगीत की समझ भी रखते हैं.''

अमन का पैग़ाम

पिछले साल 26 नंवबर को मुंबई में हुए हमलों के कारण भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया था. इस वजह से 'स्ट्रिंग्स' को भी अपना भारत आने का कार्यक्रम रद्द करना पड़ा था.

लेकिन अब वो कहते हैं कि वो इन बुरी यादों को पीछे छोड़कर आगे बढ़ना चाहते हैं और अपने संगीत के ज़रिये शांति का संदेश देना चाहते हैं.

'स्ट्रिंग्स' ने हाल-फ़िलहाल एक नया म्यूज़िक विडियो बनाया है जो कि उनके एल्बम 'कोई आने वाला है' के गाने 'तितलियां' पर आधारित है.

इस गाने में उन्होंने ऐसे दिग्गज संगीतकारों को श्रद्दांजलि दी है जो अब इस दुनिया में नहीं रहे - जिनमें शामिल हैं रोशनआरा, नूरजहां, बड़े गुलाम अली ख़ां और नुसरत फ़तेह अली ख़ान.

फ़ैसल कहते हैं,"इस गाने में एक ख़ास तरह की ईमानदारी और संवेदनशीलता है. इस गाने को बनाना आसान नही था क्योंकि ये उन लोगों के बारे में जिन्होंने हमें प्रेरणा दी है."

'स्ट्रिंग्स' के ही बिलाल मक़सूद कहते हैं, "हम इन सभी दिग्गजों को सुनकर बड़े हुए हैं लेकिन आज ये हमारे बीच नहीं है. आज की पीढ़ी इन संगीतकारों के बारे में ज़्यादा नहीं जानती इसलिए हमने सोचा कि उसे इन महान कलाकारों से रूबरू करवाया जाए."

बॉलीवुड का सफ़र

'स्ट्रिंग्स' ने शूटआउट एट लोखंडवाला और ज़िंदा जैसी फ़िल्मों के गाने बनाए हैं लेकिन हाल-फ़िलहाल बॉलीवुड में ज़्यादा नज़र नहीं आ रहे.

फ़ैसल कहते हैं,"हम बॉलीवुड में ज़्यादा काम नहीं पाते क्योंकि हम एक म्यूज़िक बैंड हैं और हमारे काम करने का ढंग अलग है लेकिन आगे जब भी कोई ऐसा मौक़ा हो तो बॉलीवुड में फिर काम ज़रूर करना चाहेंगे."

पाकिस्तान में चल रहे आतंकवाद से प्रभावित 'स्ट्रिंग्स' ने अब एक नया गाना बनाने की सोची है जो अमन की बात करेगा. इसका नाम है 'हमको ख़ुद ही कुछ करना पड़ेगा'.

ख़ास बात ये है कि इस गाने को 'स्ट्रिंग्स' एक और मशहूर पाकिस्तानी पॉप गायक आतिफ़ असलम के साथ मिलकर बनाएंगे.

संबंधित समाचार