रेखा, हेमा और ऋषि कपूर एक साथ

राज कंवर, लव सिन्हा, पूनम सिन्हा, रेखा
Image caption फ़िल्म 'सदियां' के म्यूज़िक लॉंच के मौके पर निर्देशक राज कंवर, हीरो लव सिन्हा, पूनम सिन्हा और रेखा

सत्तर और अस्सी के दशक में कई सफल फ़िल्में देने वाले रेखा, हेमा मालिनी और ऋषि कपूर अब एक साथ नज़र आएंगे निर्देशक राज कंवर की फ़िल्म ‘सदियां’ में.

फ़िल्म के निर्देशक राजकंवर कहते हैं, “मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे रेखा और हेमा मालिनी को पहली बार एक साथ पेश करने का मौका मिला है”.

फ़िल्म की कहानी के बारे में राज कंवर कहते हैं कि ये उनके दिल के बहुत क़रीब है. वो कहते हैं, “1947 में भारत के बंटवारे पर आधारित एक घटना से प्रेरित होकर ये फ़िल्म बनाई है जो बचपन में मेरी दादी मुझे सुनाती थीं. ये एक पीरियड फ़िल्म है, दो मांओं के त्याग की कहानी है, एक बच्चे की आंतरिक जद्दोजहद की कहानी है.”

इस फ़िल्म की एक और ख़ासियत ये है कि इससे अभिनेता और नेता शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा भी बॉलीवुड में कदम रख रहे हैं.

फ़िल्म के बारे में लव सिन्हा ने बताया कि ये एक फ़ैमिली ड्रामा है और इसमें रोमांस है. लव कहते हैं, “मैं ऋषि जी के बेटे का रोल कर रहा हूं. इस लड़के की ज़िंदगी में कुछ ऐसे वाक़्यात होते हैं कि उसे अपने-आप से पूछना होता है कि क्या सच था और क्या झूठ था, इसकी कहानी है सदियां.”

हेमा मालिनी, रेखा और ऋषि कपूर जैसे अनुभवी कलाकारों के साथ अपनी पहली ही फ़िल्म में काम करने को लव एक यादगार मौका मानते हैं. वो कहते हैं, "आपको ये फ़िल्म रेखा जी, हेमा जी और ऋषि जी की परफ़ॉर्मेंस के लिए देखना चाहिए".

शत्रुघ्न सिन्हा ने फ़िल्मों में अपने अभिनय और डायलॉग डिलवीरी से एक अलग पहचान बनाई. और लव जानते हैं कि पिता के साथ तुलना भी होगी.

इस बारे में वो कहते हैं, "मेरे पिता शत्रुघ्न सिन्हा से तुलना कीजिए लेकिन मैं ये कहूंगा कि मेरे पिता ऑरिजिनल हैं और मैं भी ऑरिजिनल बनने की कोशिश करुंगा. हो सकता है मुझमें कुछ ऐसा हो जो मेरे पिता में नहीं था और उनमें कुछ ऐसा हो जो मुझमें नहीं है, लेकिन यही तो नयापन है. तो आप इस नयेपन को देखने आइए, देखने आइए कि लव सिन्हा क्या कर सकता है".

पिता शत्रुघ्न सिन्हा जहां एक तरफ़ बेटे के लिए ख़ुश हैं, वहीं वो कहते हैं कि उन्हें थोड़ी सी चिंता भी है. मगर वो कहते हैं, "जिस मौलिकता को लेकर लव इस फ़िल्म में आए हैं और उन्हें सबका समर्थन मिला है, मैं समझता हूं कि इस फ़िल्म के ज़रिए लव अपने आपको बहुत लोगों के मुक़ाबले बेहतर और अलग साबित कर पाएंगे".

पिता होने के नाते भले ही शत्रुघ्न सिन्हा अपने बेटे के लिए ख़ुश हैं. लेकिन वो कहते हैं, "कलाकार होने के नाते मुझे थोड़ी जलन होती है कि मुझे शुरुआत में ऐसी वातावरण और ऐसी कोई फ़िल्म मिली जिसपर मैं गर्व कर सकता था".

फ़िल्म के बारे में रेखा ने कहा कि उन्हें सदियां जैसी फ़िल्म के लिए सदियों इंतज़ार करना पड़ा. साथ ही उन्होंने अदनान सामी की भी तारीफ़ की.

संबंधित समाचार