‘प्रिंस’ का ऐक्शन

विवेक ओबेरॉय
Image caption 'प्रिंस' एक्शन से भरपूर फ़िल्म है

ऐक्शन से भरपूर कूकी गुलाटी निर्देशित फ़िल्म प्रिंस में विवेक ओबेरॉय एक अंतरराष्ट्रीय चोर की भूमिका में नज़र आएंगे. फ़िल्म नौ अप्रैल को रिलीज़ हो रही है. ओबेरॉय के साथ इस फ़िल्म में अरुणा शील्ड्स, नंदना सेन और नीरु सिंह के रुप में तीन अभिनेत्रियां हैं.

फ़िल्म का प्रमुख किरदार दुनिया का सबसे ख़तरनाक चोर तो है लेकिन फ़िल्म में उसके संवेदनशील पक्ष को दिखाया गया है. ये चोर यानि ‘प्रिंस’ एक बड़ी चोरी के बाद जब सुबह सोकर उठता है तो उसे अहसास होता है कि उसकी यादाश्त जा चुकी है.

विवेक ओबेरॉय कहते हैं कि ये किरदार निभाना उनके लिए आसान नहीं था. ओबेरॉय कहते हैं, "देखिए ‘प्रिंस’ का किरदार एक मज़बूत किरदार है जो हर विपरीत हालात से दो-चार होना जानता है. ऐसा किरदार करते हुए आपका आत्मविश्वास बढ़ जाता है. साथ ही जब उसकी यादाश्त चली जाती तो ये किरदार मुश्किल हो जाता है."

निर्देशक कूकी गुलाटी भी कहते हैं कि प्रिंस काफ़ी चुनौतीपूर्ण फ़िल्म है. उनका कहना है, "ऐसी फ़िल्म के लिए कोई तैयारी नहीं कि जा सकती है. इस फ़िल्म को देखने वाले हर व्यक्ति को अपनी सीट पर बांधे रखने का श्रेय फ़िल्म के लेखक सिराज अहमद को जाएगा. कहानी में बहुत से दिलचस्प मोड़ हैं जिसके कारण दर्शक पलक तक नहीं झपक पाएंगें."

फ़िल्म के निर्माता कुमार तोरानी ने इस फ़िल्म में भरपूर ऐक्शन पर जमकर खर्च किया है. फ़िल्म में मार-धाड़ और ऐक्शन को एडिट करने के लिए अंग्रेज़ी फ़िल्म ‘ट्रांसपोर्टर’ के एडिटर निकोलस को बुलाया गया था. लेकिन एक्शन के दृश्यों को एडिट करने के बाद में निकोलस ने सारी फ़िल्म स्वयं ही एडिट करने का फ़ैसला किया.

विवेक ओबेरॉय कहते हैं, "निकोलस के अलावा रेसुल पुकुट्टी ने इस फ़िल्म में साउंड का काम किया है. पुकुट्टी ने तो मुझे तीन-चार महीने पहले ही डब करने के लिए कहा क्योंकि वो इस फिल्म के लिए नई ‘साउंड’ तैयार कर रहे थे."

संबंधित समाचार