बॉलीवुड और क्रिकेट का आमना-सामना

अनिल कपूर और मुथैया मुरलीधरन आईफ़ा के एक कार्यक्रम में
Image caption आईफ़ा 2010, कोलम्बो में 3 से 5 जून तक होगा.

इस साल तीन जून से कोलंबो में हो रहे आईफ़ा समारोह में फ़िल्मी हस्तियों के अलावा एक और आकर्षण होगा बॉलीवुड सितारों और क्रिकेटरों के बीच एक चैरिटी मैच.

इस चैरिटी मैच की घोषणा बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर और श्रीलंकाई क्रिकेटर मुथैया मुरलीधरन ने हाल ही में नई दिल्ली में की.

मुथैया मुरलीधरन कहते हैं, 'पिछले तीस साल से श्रीलंका में लड़ाई का माहौल था जिस वजह से लोग विस्थापित हो गए थे. अब ये बहुत ज़रूरी है कि विस्थापितों को फिर बसाया जाए.'

मुरलीधरन ने बताया, 'श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने आईफ़ा अधिकारीयों के आगे प्रस्ताव रखा था कि बॉलीवुड और क्रिकेट खिलाड़ियों के बीच एक मैच रखा जाए जिसकी राशि इन लोगों को बसाने के लिए इस्तेमाल की जाए.'

चैरिटी मैच के अलावा मुरलीधरन के उत्साह का एक कारण बॉलीवुड अभिनेताओं से मिलने का भी है.

उन्होंने कहा, 'मैं कई बॉलीवुड अभिनेताओं से मिल चुका हूं लेकिन ये मुलाक़ात ज़्यादातर छोटी ही रही. तो इस बार हम एक साथ खेलेंगे और क्यूंकि मुझे बॉलीवुड फ़िल्में पसंद हैं तो मैं बेहद उत्साहित हूं.'

मुरलीधरन की स्पिन बॉलिंग के कई दीवाने हैं लेकिन मुरलीधरन तो ख़ुद बॉलीवुड फ़िल्मों के फैन हैं.

Image caption अनिल कपूर अपनी किसी फ़िल्म में मुरलीधरन का किरदार निभाना चाहते हैं.

उन्होंने बताया, 'मैंने बहुत बॉलीवुड और दक्षिण भारतीय फ़िल्में देखी हैं. अगर मुझे खाली वक़्त मिलता है तो मैं कभी-कभी भारतीय फ़िल्में देखता हूं और ये मुझे बहुत मनोरंजक लगती हैं.'

अभिनेता अनिल कपूर भी श्रीलंका जाने के लिए बहुत उत्साहित हैं. उन्होंने कहा कि वे आज तक वहां नहीं गए हैं और आईफ़ा से बढ़िया मंच क्या हो सकता है.

आईफ़ा आज दुनिया का एक जाना-माना ब्रैंड है. लेकिन अनिल कपूर ने जब आईफ़ा के बारे में पहली बार सुना तो उसे बिलकुल गंभीरता से नहीं लिया.

अनिल कपूर ने कहा, 'दस साल पहले मेरे एक मित्र ने मुझे आईफ़ा अधिकारियों से परिचित कराया था. मैं दो श्रेणियों में नामांकित था लेकिन फिर मैंने सोचा कि ये भी अन्य अवार्ड समारोहों की तरह है तो जाने का क्या फ़ायदा. मुझे लगा कि ये मुझे प्रभावित करने कि कोशिश कर रहे थे और कहीं न कहीं मैंने इन्हें गंभीरता से नहीं लिया.'

संबंधित समाचार