सलीम-सुलेमान जुड़े वर्ल्डकप से

सलीम, सुलेमान मर्चेंट, लोयिसो बाला, ऐरिक वैनैना
Image caption संगीतकार सलीम-सुलेमान ने अफ़्रीकी गायक लोयिसो बाला और ऐरिक वैनैना के साथ मिलकर 2010 फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप की एंथम बनाई है.

हिंदी फ़िल्म जगत की जानी- मानी संगीतकार जोड़ी सलीम- सुलेमान ने अगले महीने शुरु होने वाले फ़ीफ़ा फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप का एंथम बनाया है.

इतना ही नहीं, वो दस जून को जोहांसबर्ग में होने वाले उदघाटन समारोह में भी लाइव परफ़ॉर्म करेंगे.

सलीम और सुलेमान मर्चेंट ने इस एंथम को दो अफ़्रीकी संगीतकारों, लोयिसो बाला और ऐरिक वैनैना के साथ मिलकर बनाया है. लोयिसो बाला दक्षिण अफ़्रीका से हैं और ऐरिक वैनैना केन्या से हैं.

दिलचस्प बात ये है कि इस गीत को सलीम और उनकी पत्नी जीन ने मिलकर लिखा है. सलीम ने बीबीसी से बातचीत में कहा, "हमने ये गाना अफ़्रीका के लिए बनाया था. हमने सोचा भी नहीं था कि ये फ़ीफ़ा को पसंद आ जाएगा और उदघाटन समारोह में शामिल कर लिया जाएगा. "

अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए सलीम कहते हैं, "संगीत की कोई सीमा नहीं होती. इतने बड़े प्लेटफ़ॉर्म पर परफ़ॉर्म करने का अवसर मिलना ही अपने आप में एक बड़े सम्मान की बात है. इस एंथम के अलावा हम लोयिसो और एरिक के साथ मिलकर अपनी फ़िल्म 'कुर्बान' का गीत 'शुक्रान अल्लाह' भी लोगों के लिए प्रस्तुत करेंगे. ऐरिक ने गाने को स्वाहिली और लोयिसो ने अंग्रेज़ी में लिखा है. मैं हिंदी में शुरुआत करुंगा और फिर ऐरिक और लोयिसो मेरे साथ गाएंगे."

सलीम कहते हैं, "फ़ीफ़ा के उदघाटन समारोह के अलावा हम नेल्सन मंडेला फाउंडेशन जैसे प्रतिष्ठित संस्था के फंड इकट्ठा करने के लिए रखे गए कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे. हम नेल्सन मंडेला के सामने परफ़ॉर्म करेंगे."

नेल्सन मंडेला फाउंडेशन बच्चों में क्लेफ़्ट लिप और पैलेट जैसी बीमारियों के इलाज के लिए चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराता है.

संबंधित समाचार