दबंग होगी ब्लॉक बस्टर- अभिनव कश्यप

सोनाक्षी सिन्हा और सलमान खान दबंग में
Image caption दबंग के निर्देशक हैं अभिनव सिन्हा

सलमान खा़न स्टारर दबंग के निर्देशक अभिनव कश्यप को विश्वास है कि दबंग ब्लॉक बस्टर फ़िल्मों की सूची में ज़रूर शुमार होगी. अपनी फ़िल्म को लेकर काफी़ उत्साहित अभिनव की बतौर निर्देशक बॉलीवुड में ये पहली फ़िल्म है.

फ़िल्म ईद के दिन रिलीज़ हो रही है, लेकिन रिलीज़ से पहले ही इस फ़िल्म में लोगों की दिलचस्पी देखने लायक है. खा़सतौर पर जिस तरह का किरदार फ़िल्म में सलमान खा़न निभा रहे हैं वो दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है.

अभिनव कहते हैं, " ये एक अच्छी और मनोरंजक फ़िल्म बनाने की उनकी कोशिश है और अगर लोग रिलीज़ से पहले ही फ़िल्म की ओर खिंच रहे हैं तो इसका मतलब है की उनका तुक्का सही जगह लगा है."

सलमान बने चुलबुल पाण्डेय

फ़िल्म के बारे में अभिनव कहते हैं कि कहानी सलमान खान के इर्दगिर्द घुमती है. फ़िल्म में सलमान एक ऐसे पुलिसवाले की भूमिका में हैं जो अपने और जनता के फा़यदे के लिए का़नून को तोड़- मोड़ लेते हैं.

Image caption ईद पर मिलिए दबंग चुलबुल पाण्डेय से.

दबंग में जो किरदार हैं उनके नाम कुछ अलग हैं. जैसे फ़िल्म में सलमान का नाम है चुलबुल पाण्डेय. अभिनव कहते हैं कि 'कैरक्टर ड्रिवन ड्रामा' यानी जिस किरदार को ख़ुद उसे निभाने वाला ही आगे लेकर जाता है, उसमें ये ज़रूरी होता है कि आपके पात्रों का नाम खा़स हो. वो कहते हैं , "शोले के किरदार जैसे गब्बर और साम्बा अमर हैं, क्योंकि उनके नाम अलग हैं."

पिछले साल बॉक्स ऑफिस पर 'वांटेड' के अलावा सलमान की कोई फ़िल्म नहीं चली थी. तो क्या दबंग के ज़रिए सलमान फ़िल्मों में वापसी कर सकते हैं? इस सवाल का जवाब देते हुए अभिनव कहते हैं कि सलमान कहीं गए ही नहीं थे तो वापसी कैसे कर सकते हैं. दुर्भाग्यवश उनकी कुछ फिल्में नहीं चलीं लेकिन उनकी लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई.

अभिनव अपनी पहली ही फ़िल्म में सलमान खा़न के साथ काम कर पाने को अपना सौभाग्य मानते हैं.

अभिनव कश्यप चर्चित निर्देशक अनुराग कश्यप के छोटे भाई हैं. जब बीबीसी ने उनसे पूछा की दोनों भाइयों की शैली में इतना अंतर क्यों है तो जवाब में अभिनव कहते हैं कि उन्हें अनुराग की शैली और फ़िल्में बेहद पसंद हैं. उन्होंने शुरुआत थोड़ी अलग की है, हो सकता है अनुराग जैसी फ़िल्में बनाते हैं, भविष्य में वो वैसी फ़िल्में भी बनाएँ.

अभिनव कहते हैं कि अनुराग हिंदी सिनेमा के बेहतरीन लेखकों में से एक हैं और वो अक्सर उनसे सलाह लेते रहते हैं.

ईद पर रिलीज़ दबंग

भारत में त्यौहार के मौसम में फ़िल्में रिलीज़ करना एक आम बात है. लेकिन फ़िल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे सलमान खा़न के मुताबिक़ ये सही नहीं है. सलमान कहते हैं कि फ़िल्में उस वक़्त रिलीज़ होनी चाहिएं जब कुछ न हो रहा हो. ताकि लोग जाएं और फ़िल्में देखें.

सलमान कहते हैं कि फ़िल्म का स्क्रीनप्ले इतना आकर्षक था की वो इस फ़िल्म को करने के लिए तैयार हो गए.

अब तक के अपने फ़िल्मी जीवन में ये पहली बार है जब सलमान ने अपने रोले के लिए ख़ासतौर पर मूछें उगाई हैं. वो कहते हैं पहले उन्हें थोडा़ अजीब लगा, लेकिन फिर सेट पर सब ने उन्हें मना लिया.

वहीं दबंग से बॉलीवुड में क़दम रख रही हैं शत्रुघ्न सिन्हा कि बेटी सोनाक्षी सिन्हा. सोनाक्षी कहती हैं कि फ़िल्म का प्रस्ताव उनके सामने सलमान खा़न और अरबाज़ खान ने रखा और वो मना नहीं कर पाईं.

सोनाक्षी कहती हैं फ़िल्म में सलमान के साथ काम करने में उन्हें बेहद मज़ा आया.

संबंधित समाचार